Home फीचर Google Doodle में नृत्यांगना मृणालिनी साराभाई को किया जा रहा है याद

Google Doodle में नृत्यांगना मृणालिनी साराभाई को किया जा रहा है याद

0 32 views
Rate this post

नई दिल्ली

जानी-मानी डांसर और पद्म भूषण से सम्मानित मृणालिनी साराभाई का आज 100वां जन्मदिन है। महान नृत्यांगना को इस मौके पर गूगल ने डूडल बनाकर श्रद्धांजलि दी है। मृणालिनी साराभाई ने 1949 में पेरिस में डांस किया और वहां उन्होंने खूब वाहवाही बटोरी। इसके बाद से उन्हें डांस करने के लिए दुनियाभर से बुलावा आने लगा। क्लासिकल डांस को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का श्रेय मृणालिनी साराभाई को ही जाता है।

इस गूगल डूडल को सुदीप्ति टकर ने बनाया है। मृणालिनी साराभाई गूगल डूडल में दर्पण अकेडमी ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट के ऑडिटॉरियम में एक छतरी लिए हुए हैं और उनके पीछे डांस परफॉर्म करती हुईं डांसर्स हैं। गूगल ने एक पोस्ट में डूडल के बारे में लिखा, ‘आज के डूडल में भारतीय क्लासिकल डांसर मृणालिनी साराभाई को याद किया जा रहा है, जिन्होंने कम उम्र में ही अपनी टेक्नीक, ऊर्जा और मजबूती के दम पर भरतनाट्यम की साउथ इंडियन क्लासिकल डांस फॉर्म और कत्थकली की क्लासिकल डांस ड्रामा की ट्रेनिंग ली।’

साराभाई का जन्म केरल में हुआ था और उनका बचपन स्विट्ज़रलैंड मे बीता जहां उन्होंने डांस की शुरुआती शिक्षा ली। उन्होंने अमेरिकन अकेडमी ऑफ ड्रमैटिक आर्ट्स में एक्टिंग भी सीखी। उन्हें अम्मा के नाम से जाना जाता था और वह भरतनाट्यम, कत्थकली और मोहिनियोत्तम में भी पारंगत थीं। रबींद्रनाथ टैगोर की देखरेख में उन्होंने शांतिनिकेतन में भी शिक्षा ग्रहण की थी। उनका विवाह भारत के स्पेस प्रोग्राम के फादर कहे जाने वाले डॉक्टर विक्रम साराभाई से हुआ था।

क्लासिकल डांसर के अलावा, मृणालिनी साराभाई एक कवियित्री, लेखकर और पर्यावरणविद् भी थीं। उन्होंने 300 से ज़्यादा डांस परफॉर्मेंस को स्टेज़ पर कोरियोग्राफ किया। उनकी परफॉर्मेंस के दौरान अकसर प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति को भी देखा जाता था। 21 जनवरी, 2016 को 97 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....