Home राज्य गुजरात चुनाव: 40 वोटरों के लिए समुद्र के बीच बनेगा यह पोलिंग...

गुजरात चुनाव: 40 वोटरों के लिए समुद्र के बीच बनेगा यह पोलिंग बूथ

0 28 views
Rate this post

अहमदाबाद

गुजरात में होने जा रहे विधानसभा चुनावों में एक पोलिंग बूथ ऐसी जगह बनाया गया है जहां कोई बुनियादी सुविधा नहीं है। यहां न तो बिजली है न ही कोई स्कूल है। पुलिस थाना भी नहीं है। न ही कोई स्वास्थ्य केंद्र है। यहां सिर्फ 40 मतदाता हैं जो पहली बार विधानसभा चुनाव में मतदान करेंगे।

इन 40 मतदाताओं के लिए विशेष तौर पर यहां अस्थाई टेंट लगाकर पोलिंग बूथ को तैयार किया जाएगा। चुनाव के दिन यहां अस्थाई तौर पर पुलिस चौकी की भी व्यवस्था की जाएगी। यह पोलिंग बूथ अरब सागर में द्वारका के पास स्थित आजाद आइसलैंड है, जो समुद्र के बीच (आठ किलोमीटर) बनाया जा रहा है।

चुनाव आयोग का है नियम
दरअसल, भारतीय निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक हर दो किलोमीटर के रेडियस में एक वोटिंग बूथ अनिवार्य है। यही वजह है कि आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सिर्फ 40 मतदाताओं के लिए आजाद आइसलैंड पर पोलिंग बूथ बनाना पड़ रहा है। यह आइसलैंड खंभालिया विधानसभा क्षेत्र के नाना असोता गांव के नजदीक है।

पोलिंग बूथ पर अस्थाई पुलिस चौकी
पोलिंग बूथ पर निर्वाचन आयोग के चार अधिकारी, तीन सुरक्षाकर्मी और एक अस्थाई पुलिस चौकी की व्यवस्था होगी। इस बूथ पर अपना वोट डालने वाले सभी 40 मतदाता पहली बार विधानसभा चुनाव में वोट डालेंगे। ये मतदाता इससे पहले 2014 के लोकसभा चुनाव में मतदान कर चुके हैं। दरअसल, यह इसलिए है कि यह आइसलैंड 2013 में ही द्वारका जिले में शामिल हुआ है। इस आइसलैंड पर 19 महिला और 21 पुरुष मतदाता मतदान करेंगे। अभी तक यहां के लोग चुनावों में आसपास के गांवों में जाकर मतदान करते रहे हैं।

बूथ जहां पर कोई सुविधा नहीं
गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी बीबी स्वाइन ने कहा, ‘गुजरात में इस अकेले पोलिंग बूथ को छोड़कर शेष सभी बूथ पर सभी तरह की सुविधाएं मौजूद हैं। यह पहला बूथ है जहां किसी भी तरह की बुनियादी सुविधाएं नहीं हैं। हमने जब पूरा ब्यौरा मंगाया तो पता चला कि यहां सिर्फ 40 मतदाता ही हैं।’ गौरतलब है कि 2011 के जनसंख्या आंकड़ों के मुताबिक आजाद टापू की जनसंख्या 89 थी। पर, यह संख्या लगातार कम हो रहा है। बुनियादी सुविधाओं के अभाव में लोग तेजी से यहां पलायन भी कर रहे हैं।

विशेष नाव से जाएंगे पोलिंग कर्मचारी
देवभूमि द्वारका के कलेक्टर जे.आर डोडिया ने बताया कि मतदान के दिन पोलिंग स्टॉफ और पुलिस की टीम को विशेष नाव से आजाद टापू पर भेजा जाएगा। मतदान के दिन वहां पर अस्थाई पुलिस चौकी की भी व्यवस्था की जाएगी।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....