Home फीचर फिर बहके गौर कहा-संतों से हस्तरेखा और मस्तक पढ़ना सीखे पुलिस

फिर बहके गौर कहा-संतों से हस्तरेखा और मस्तक पढ़ना सीखे पुलिस

0 244 views
Rate this post

भोपाल

babulal-gaurविवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले प्रदेश के गृहमंत्री बाबूलाल गौर ने पुलिस को संतों से हस्तरेखा और मस्तक पढ़ने की कला सीखने की सलाह दे डाली। वह पीएचक्यू में आयोजित दो दिनी ऑल इंडिया कॉन्फ्रेंस ऑफ डायरेक्टर फिंगरप्रिट ब्यूरो की कार्यशाला के समापन पर देशभर से आए पुलिस अधिकारियों को बुधवार को संबोधित कर रहे थे। गौर यहीं नहीं रूके, बल्कि ये भी कहा कि आध्यात्मिक शक्ति से संपन्न् लोगों की एक मीटिंग भी बुलाई जाए।

उन्होंने कहा कि पुलिस फिंगर प्रिंट का इस्तेमाल सिर्फ अपराधियों को पकड़ने तक सीमित न रखे, बल्कि आम आदमी को लाभ मिल सके ऐसा भी काम करे। आला पुलिस अधिकारियों को संबोधित करते हुए गौर पूरे समय आध्यात्मिक शक्ति का पाठ पढ़ाते रहे और उन्होंने बाबा रामदेव की तुलना भी स्वामी विवेकानंद से कर डाली। गौर ने बाबा रामदेव को लेकर यह भी कहा कि वह एक साधारण बाबा तो हैं ही और व्यापार करोड़ों का कर रहे हैं। उन्होंने कहा घास-फूस, मिट्टी से दुनियाभर की बीमारियों को दूर करने वाले बाबा रामदेव के पास स्वामी विवेकानंद जैसी आध्यात्मिक शक्ति है।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....