Home राष्ट्रीय पीएम के रास्ते में गमला फेंका, महिला हिरासत में

पीएम के रास्ते में गमला फेंका, महिला हिरासत में

0 175 views
Rate this post

नई दिल्ली 

CaRwpप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले के रास्ते पर बुधवार को एक महिला ने गमला फेंक दिया। इस रास्ते से कुछ ही देर बाद पीएम का काफिला गुजरा था। महिला को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।  जानकारी के मुताबिक महिला दिल्ली के पास साहिबाबाद में रहती है और पीएम से मिलने आई थी। उसे पीएमओ में नहीं घुसने दिया गया तो वह इससे नाराज थी।

साउथ ब्लॉक से थोड़ी देर पहले ही पीएम का काफिला गुजरा था। महिला को रक्षा मंत्रालय के पास से हटने को कहा गया तो उसने रास्ते पर गमला फेंक दिया। इसके तुरंत बाद महिला को वहां मौजूद महिला पुलिस कॉन्सटेबलों ने हिरासत में ले लिया और संसद मार्ग थाने ले जाया गया।  जानकारी के मुताबिक महिला ने विजय चौक के पास गमला फेंका था। उसे संसद मार्ग थाने में ले जाया गया है।

महिला ने बताया, मोदी के काफिले के रास्‍ते में क्‍यों फेंका गमला

नरेंद्र मोदी के काफिले के रास्ते पर बुधवार को गमला फेंकने वाली महिला की पहचान नीना रावल के रूप में हुई है। वह साहिबाबाद की रहने वाली हैं। उनका कहना है कि कुछ गुंडों ने उनकी मार्कशीट फाड़ दी है और वह न्‍याय चाहती हैं। वाकया दोपहर 2.10 मिनट पर हुआ जब मोदी का काफिला साउथ ब्‍लॉक से निकल रहा था। डीसीपी (नई दिल्‍ली) जतिन नरवाल ने कहा कि महिला उस भीड़ का हिस्‍सा थी जिसे विजय चौक के पास प्रधानमंत्री का काफिला गुजरने से पहले सड़क खाली करने और फुटपाथ पर रुकने को कहा गया था। नरवाल के मुताबिक, जब पुलिस ने उसे हटने को कहा था तो वह गुस्‍सा हो गई थी। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों के साथ उसकी बहस हुई और उसने तीन बैरिकेड्स को धकेल दिया था। जब तक पुलिस उसे रोक पाती, वह रायसीना हिल्‍स की तरफ भाग गई और वहां उसने सड़क पर एक फूल का गमला फेंक दिया।

नरवाल ने कहा कि महिला द्वारा ऐसा किए जाने के एक मिनट बाद ही मोदी का काफिला गुजरने वाला था। महिला को हिरासत में लेकर संसद मार्ग पुलिस थाने ले जाया गया था जहां उनसे पूछताछ की गई। इसके बाद उनका मेडिकल चेक-अप किया गया। पूछताछ में नीना ने पुलिस को बताया कि उसके पैतृक गांव में कुछ गुंडों ने उसकी मार्कशीट फाड़ दी थी और उसके साथ बदतमीजी की थी। मामले में उसने वहां शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। महिला का दावा है कि वह न्‍याय पाने के लिए दिल्‍ली आई थी। हालांकि, जब महिला से पूछा गया कि क्‍या उसे पता था कि किसका काफिला गुजरने वाला है तो उसने कहा कि उसे इस बारे में कुछ पता नहीं था।

अधिकारियों ने बताया कि वह गाजियाबाद से मेट्रो लेकर सुबह ही दिल्‍ली पहुंची थी। जब उसके आने का मकसद पूछा गया तो उसने कोई साफ जवाब नहीं दिया। नरवाल ने कहा, ‘हम मामले की जांच कर रहे हैं। महिला का बयान दर्ज कर लिया गया है और उसका मेडिकल चेक-अप किया गया है।’

दोस्तों के साथ शेयर करे.....