Saturday , October 24 2020

1992 के अनुपात में किया जाये वेज रिवीजन-राठौर

फाउंड्री गेट पर एचएमएस ने किया प्रदर्शन

भोपाल

भेल कर्मचारियों के वेज रिवीजन किये जाने का मुद्दा थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को भेल की एचएमएस यूनियन ने फाउंड्री गेट पर प्रदर्शन किया। इस मौके पर यूनियन के महासचिव अमर सिंह राठौर ने कहा कि 1992 के अनुपात में कर्मचारियों का वेज रिवीजन किया जाये। उन्होंने कहा कि 1 जनवरी 2017 से वेज रिवीजन की वार्ता शुरू होने जा रही है ऐसे में भेल प्रबध्ंान ने पुन: डीपीई की गाईड लाईन को ताक पर रखते हुए ई1 को ई3 स्केल 60000 रूपये दे रहा है तो भेल के सभी यूनिट के सुपरवाईजर एवं समकक्ष श्रमिक की यह अपेक्षा है कि 1 जनवरी 1992 को हुए वेज रिवीजन के अनुसार एस1-ए-1 को ई-1 की तुलना में 75 प्रतिशत कम वेतनमान 45000 दिया जाये। एचएमएस के अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रबंधन आज भी कर्मचारियों की मांगों पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। यदि प्रबंधन का रवैया ठीक नहीं रहा तो यूनियन को बड़े आंदोलन को मजबूर होना पड़ेगा।

संगठन के युवा नेता अवधेश सिंह ने वेज रिवीजन के आंकड़ों को कर्मचारियों के सामने रखा, वही कर्मचारी नेता एसपी पंडा ने कहा कि कर्मचारियों को जल्द से जल्द ढाई इंक्रीमेंट व अनुकंपा नियुक्ति लाभ मिलना चाहिए। आम सभा में मीडिया प्रभारी मनोज दीक्षित, एसके लोधी, रामेश्वर मंडलोई, यूके विश्वकर्मा, हेमन्त सिंह, देवेन्द्र जाटव, नरेन्द्र भंडारी, सुनील सिन्हा, प्रकाश बिनवानी, सलाउद्दीन खान, राजेन्द्र वर्मा, सुभाष चौहान, योगेश जाटव, विजय तिवारी, संतोष साहू, मंगलचरण, प्रशांत जोशी, मनोज बामलिया, राजेश यादव, रूपेश चौहान, करण नागर, सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी मौजूद थे।

सामूहिक सीएल पर जायेंगे कर्मचारी
भेका। ढाई इंक्रीमेंट की मांग को लेकर भेल कर्मचारी गुरुवार को सामूहिक सीएल लेंगे। इसके लिए भेल प्रबंधन ने आवेदन भी दिया था लेकिन भेल प्रबंधन ने कड़े कदम उठाते हुए सीएल न देने का फैसला लिया है। ऐसे में जो भी कर्मचारी गुरुवार को अवकाश पर रहेंगे, उनको लीव विद आउट पे माना जाएगा और उनकी एक दिन की सैलरी काटी जाएगी। एचआर विभाग ने इस बावत् सभी एचओडी को मेल किया है। यह जानकारी भेल इंटक के नेता रंणजीत सिंह ने दी। भेल प्रवक्ता विनोदानंद झा ने बताया कि गुरुवार को सामूहिक सीएल लेने वालों की सैलरी काटी जाएगी। उन कर्मचारियों को इससे छूट मिलेगी जो पहले से ही छुट्टी पर चल रहे हैं या मेडिकल ग्राउंड पर हैं। इधर ऑल इंडिया भेल एम्प्लाईज यूनियन ने भेल के कार्यपालक निदेशक को हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन सौंपा। यूनियन के प्रवक्ता आशीष सोनी ने बताया कि वेज रिवीजन को लेकर ऑल इंडिया भेल एम्प्लाईज यूनियन ने हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की जिसमें भेल के कर्मचारियों ने हिस्सा लिया लगभग 3500 कर्मचारी इस हस्ताक्षर अभियान में शामिल हुए।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

भेल के ठेका श्रमिक की उपेक्षा, संघ करेगा आंदोलन

भोपाल भेल प्रबंधन द्वारा पिछले कुछ दिनों से भेल के सोसायटी कर्मचारियों, वक्र्स कॉन्ट्रेक्ट, ब्लु …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!