Wednesday , October 28 2020

गोविंदपुरा के उद्योगों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर उद्योगपतियों ने किया चक्काजाम

भोपाल

कोविड-19 और लॉकडाउन के चलते जहां गोविंदपुरा औद्योगिक क्षेत्र के उद्योग दम तोड़ रहे हैं वहां उद्योगों के उपयोग में आने वाली ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी उनकी कमर ही तोड़ कर रख दी है। इस कारण उद्योगों में 15 दिनों से उत्पादन का काम लगभग ठप्प सा पड़ा है। बुधवार को उद्योगपतियों ने अपनी समस्याओं को लेकर रायसेन रोड़, गोविंदपुरा पर चक्काजाम किया। करीब 2 से 3 किमी तक जाम लगा रहा।

पुलिस प्रशासन के सीएसपी और अशोका गार्डन, पिपलानी और गोविंदपुरा के टीआई की समझाइश के बाद यह जाम खत्म हुआ। इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरजीत सिंह ने बताया कि गैस सिलेंडर की कमी को लेकर पिछले 15 दिनों में कलेक्टर, स्वास्थ्य मंत्री, उद्योग मंत्री आदि से मुलाकात कर ज्ञापन भी सौंपे, लेकिन आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला जबकि एसोसिएशन की मांग केवल 10 प्रतिशत ऑक्सीजन सिलेंडर इंडस्ट्री को प्रोवाइड करवाने की बात कही गई थी लेकिन सरकार उसको भी नकार रही है।

एसोसिएशन के संयुक्त सचिव विजय गौड़ का कहना है कि गैस सिलेंडर से करीब 300 कारखानों में फेब्रीकेशन और शीट मेटल का कार्य किया जाता है। इसकी कमी के कारण इन सभी यूनिटों में काम ठप्प पड़ा है। इसके चलते भेल व अन्य कस्टमर को समय पर जॉब की सप्लाई देने में परेशानी हो रही है। कस्टमर का काम रूकने से वह उद्योगों पर पैनाल्टी लगा रहा है। एसोसिएशन एक बार फिर मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री, प्रिंसिपल सेक्रेट्री को ज्ञापन सौंपेगी यदि इसके बाद भी सुनवाई नहीं हुई तो अगले शनिवार को चक्काजाम किया जायेगा।

200 का सिलंडर ब्लेक में बिक रहा है 1000 में
एक उद्योगपति ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि गोविंदपुरा औद्योगिक क्षेत्र में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी का फायदा उठाते हुए चंद लोग इस सिलेंडर को 200 रूपये का सिलेंडर 800 से 1000 रूपये में ब्लेक में बेच रहे हैं। उद्योगपतियों की मजबूरी यह है कि समय पर कस्टमर को जॉब नहीं भेजा तो उन्हें आगे और परेशानी का सामना करना पड़ेगा। ऐसे में ब्लेक में सिलेंडर खरीदना उनकी मजबूरी बन गई है। इधर जिला प्रशासन ब्लेक में सिलेंडर बेचने वालों पर कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

कोरोना संक्रमण के ग्रहण ने किया दशहरा महोत्सव को फीका

भेल में आनंद नगर, बागमुगालिया, बागसेवनिया, शक्ति नगर, अवधपुरी-पठानी और अयोध्या नगर में हुआ रावण …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!