Thursday , October 22 2020

फिर बदला भेल कारखाने के पालियों का समय

भोपाल

भेल महारत् न कंपनी में कोरोना संक्रमण के चलते एक बार फिर भेल प्रबध्ंान कारखाने में कार्यरत कर्मचारियों- अधिकारियों की पालियों के समय में बदलाव किया है। यह आदेश मानव संसाधन विभाग ने बुधवार को जारी किया है। जानकारी के मुताबिक कारखाने की पहली पाली सुबह 7 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगी। भोजनावकाश दोपहर 12 से 12.30 तक रहेगा। दूसरी पाली दोपहर 3 बजे से रात्रि 11 बजे तक। भोजनावक ाश रात्रि 8 से 8.30 तक रहेगा। सामान्य पाली सुबह 8 बजे से शाम 4.30 तक और भोजनावकाश दोपहर 12 से 1 बजे तक रहेगा। तीसरी पाली रात्रि 11 बजे से सुबह 7 बजे तक रहेगी।

सर्कुलर में में यह भी कहा गया है कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने थर्मल स्क्रीनिंग, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनेटाइजेशन एवं अन्य मुद्दों के संबंध में भारत सरकार, स्थानीय प्रशासन, कॉरपोरेट कार्यालय एवं यूनिट द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा। कैंटीन व्यवस्था शीघ्र ही प्रारंभ की जाएगी। तब तक कर्मचारी अपनी-अपनी भोजन व्यवस्था स्वयं ही करेंगे। ऐबू के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामनारायण गिरी ने बताया कि पिछली बार भेल कारखाने की शिफ्ट पाली परिवर्तन को लेकर प्रबंधन द्वारा निकाले गये परिपत्र का ऐबू ने विरोध किया था इसके बाद प्रबध्ंान चेता।

रन फार कोरोना वारियर्स में शामिल होंगे विश्वास
भेल में पिछले तीन साल से भारतीय मजदूर संघ रन फार बीएचईएल का आयोजन करता आ रहा है लेकिन चौथी बार इस आयोजन का नाम बदलकर कोरोना वारियर्स रखा गया है। यह जानकारी एक पत्रकार वार्ता में बीएमएस के अध्यक्ष व्हीएस कठैत ने दी। उन्होंने बताया कि 2 अक्टोबर गांधी जयंती के मौके पर चिकित्सा एवं शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, बीएमएस के प्रदेश महामंत्री केपी सिंह, विनोद रिछारिया, धर्मदास शुक्ला, ज्ञान प्रकाश तिवारी, बीएमएस के अध्यक्ष व्हीएस कठैत शामिल होंगे। इस मौके पर आयुष काढ़े का वितरण भी किया जायेगा। यह दौड़ महात्मा गांधी चौराहे से पिपलानी गणेश मंदिर तक होगी जिसमें कोरोना वायरस के चलते करीब 40 लोग ही शामिल हो सकेंगे।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

भेल के ठेका श्रमिक की उपेक्षा, संघ करेगा आंदोलन

भोपाल भेल प्रबंधन द्वारा पिछले कुछ दिनों से भेल के सोसायटी कर्मचारियों, वक्र्स कॉन्ट्रेक्ट, ब्लु …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!