Thursday , October 22 2020

MP: कर्ज से परेशान होकर किसान ने की आत्महत्या, 7 लाख का था लोन

सीहोर,

देश में किसानों के आत्महत्या करने के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. वहीं, इस बीच मध्य प्रदेश के जिले सीहोर से ऐसा मामला सामने आया है. जहां 55 वर्षीय किसान नन्नू लाल वर्मा ने कर्ज से परेशान होकर अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मौके पर पहुंची मंडी पुलिस ने एफआईआर जांच शुरू कर दी है.

ये मामला मंडी थाना अंतगर्त आने वाले ग्राम नापला खेड़ी का है. जहां मृतक किसान नन्नू लाल वर्मा के पास 6 एकड़ की जमीन थी जिस पर वह खेती करता था. मृतक के बड़े भाई प्रेम सिंह ने बताया कि उन पर मकान का कर्ज था. खेत में पाइप लाइन डाली थी. 7 लाख का कर्जा हो गया था. वह इसी कर्ज से परेशान थे.

इसके साथ ही अन्य गांव के लोग भी कर्ज को लेकर परेशान कर रहे थे. 7 लाख रुपये का कर्जा था. उनकी 6 एकड़ जमीन थी. फसल खराब हो चुकी थी. तीन-चार दिन से परेशान थे और रात में यह कदम उठा लिया.

साथ ही सोसाइटी का भी कर्ज था. परिजनों ने बताया कि नन्नू लाल को फसल बीमा की राशि भी नहीं मिली थी. यही नहीं फसल भी खराब हो गई थी तीन-चार दिन से परेशान थे. जानकारी के मुताबिक, मृतक किसान के परिवार में पत्नी के अलावा 3 बेटे हैं. 2 बेटों की शादी हो गई है. वह खेती किसानी करते थे.

इस मामले में एएसपी समीर यादव ने बताया कि मंडी थाना अंतर्गत सूचना प्राप्त हुई थी कि ग्राम नापलखेड़ी में नन्नू वर्मा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. उस पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. उसमें शुरू में जो तथ्य सामने आए हैं. उसके मुताबिक, कोई विशेष कारण नहीं है. उनके घरवाले यह कह रहे हैं कि नन्नू वर्मा ने कुछ कर्ज मकान बनाने के लिए लिया था. उसका बंटवारे संबधित कुछ विवाद भी था. पुलिस इस पूरे मामले की जांच कर रही है जो तथ्य आएंगे कार्रवाई की जाएगी.

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

हजारों लोगों की जान खतरे में डाल कोरोना पॉजिटिव महिला जा पहुंची मुरैना

नई दिल्ली एक ओर जहां लोगों को कोरोना वायरस से बचने के लिए सामाजिक दूरी …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!