Tuesday , October 27 2020

काम न आई राहुल और पंत की सेंचुरी, भारत पांचवां टेस्ट हारा

लंदन

सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और विकेटकीपर ऋषभ पंत ने मंगलवार को भारतीय खेमे में एक आस जगा दी थी लेकिन आदिल रशीद की फिरकी में दोनों बल्लेबाज ऐसे उलझे कि रही-सही उम्मीद भी जाती रही। इसके साथ ही भारतीय टीम को केनिंग्टन ओवल टेस्ट के पांचवें दिन मंगलवार को 118 रनों से हार मिली। पांच मैचों की सीरीज 4-1 से मेजबान टीम के नाम रही। भारत के सामने चौथी पारी में जीत के लिए 464 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन पूरी टीम 345 रनों पर आउट हो गई। इंग्लैंड की ओर से जेम्स एंडरसन ने तीन विकेट लिए। इसके साथ ही वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने ग्लेन मैक्ग्रा के 563 विकेटों को पीछे छोड़ा।

पांचवें दिन भारत की ओर से केएल राहुल के 149 और ऋषभ पंत (114) के बीच हुई 204 रनों की साझेदारी ने भारत के लिए एक उम्मीद जगा दी थी। लेकिन आदिल रशीद ने दोनों को आउट कर इंग्लैंड की जीत लगभग सुनिश्चित कर दी।

सलामी बल्लेबाज केएल राहुल के रूप भारत को छठा झटका लगा है। वह 149 रन बनाकर आदिल रशीद की गेंद पर बोल्ड हो गए। इससे पहले उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने शतक जमाकर मंगलवार को यहां भारत की पांचवें और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच में इंग्लैंड पर अप्रत्याशित जीत की उम्मीद जगा दी।

राहुल ने अपनी पारी में 224 गेंदों का सामना किया। उन्होंने इस दौरान 20 चौके और एक छक्का लगाया। पंत (नाबाद 101) ने चाय के विश्राम से ठीक पहले अपने करियर का पहला शतक पूरा किया। इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 204 रन जोड़े।

राहुल ने इससे पहले उप कप्तान अंजिक्य रहाणे (37) के साथ भी शतकीय साझेदारी (118) निभाई थी। सुबह 46 रन से अपनी पारी आगे बढ़ाने वाले राहुल ने शुरू से ही सकारात्मक अंदाज में बल्लेबाजी की और बिना किसी दबाव के अपने शॉट खेले। पंत ने शुरू में सतर्कता बरतने के बाद अपने नैसर्गिक अंदाज में बल्लेबाजी की। भारत के दोनों बल्लेबाजों ने स्पिनरों के सामने सहजता से रन बटोरे। इससे भारत की रन गति भी तेज हुई। राहुल ने लंच से पहले ही 118 गेंदों पर अपना शतक पूरा कर दिया था। उनका यह पिछले दो वर्षों में पहला और कुल पांचवां शतक है। लगातार नौ पारियों में नाकाम रहने के बाद पहली बार उन्होंने 50 से अधिक रन बनाए। वह इंग्लैंड में चौथी पारी में शतक बनाने वाले दूसरे भारतीय सलामी बल्लेबाज हैं। सुनील गावसकर ने इसी मैदान (ओवल) पर 1979 में 221 रन बनाए थे।

राहुल ने हालांकि शतक का खास जश्न नहीं मनाया तथा अपने हेलमेट को चूमने के अलावा ड्रेसिंग रूम में अपने साथी खिलाड़ियों का अभिवादन स्वीकार किया। पंत ने अपने आदिल राशिद की गेंद पर गगनदायी छक्का जड़कर अपने सदाबहार अंदाज में सैकड़ा पूरा किया। उन्होंने इसके लिये 117 गेंदें खेली तथा 14 चौके और तीन छक्के लगाये। वह इंग्लैंड की सरजमीं पर शतक जड़ने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर हैं।

इससे पहले इंग्लैंड में भारतीय विकेटकीपर का सर्वोच्च स्कोर 92 रन था जो महेंद्र सिंह धोनी ने 2007 में ओवल में बनाया था। पंत और उनके साथियों ने भी इस उपलब्धि का खुलकर जश्न मनाया। जब राहुल और पंत खेल रहे थे तो इस बीच बादल भी छाये रहे लेकिन जो रूट ने अपने मुख्य गेंदबाजों जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड को लंबे समय तक गेंद नहीं थमायी। रूट खुद गेंदबाजी के लिए आए लेकिन इससे कोई अंतर पैदा नहीं हुआ। पंत ने जब स्टोक्स के एक ओवर में तीन चौके लगाए तो गेंदबाज की हताशा साफ नजर आ रही थी।

पंत छक्के से अपना पहला टेस्ट शतक पूरा करने वाले चौथे भारतीय भी बने। भारत ने पहले सत्र में दो विकेट गंवाए। रहाणे ने मोईन अली पर पैडल स्वीप करने के प्रयास में अपना विकेट गंवाया जबकि पहली पारी में अर्धशतक जड़ने वाले हनुमा विहारी खाता भी नहीं खोल पाए। स्टोक्स की गेंद उनके बल्ले को चूमकर विकेटकीपर जॉनी बेयरस्टॉ के दस्तानों में समा गई।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

नया फ्रंट खोलने की तैयारी में चीन! अरुणाचल बॉर्डर से 130 किमी दूर बना रहा एयरबेस

पेइचिंग भारत से लद्दाख में उलझा चीन अब अरुणाचल प्रदेश में नया फ्रंट खोलने की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!