Monday , October 26 2020

गुड़गांव की बारिश : अंडरपास में 11 फीट पानी, डूबी मिलीं 9 गाड़ियां

गुड़गांव

हीरो होंडा चौक अंडरपास में 36 घंटे बाद भी पानी भरा रहा। पानी की निकासी के लिए फायर टेंडरों को लगाया गया। अंडरपास में किसी के फंसे होने की आशंका पर बुधवार शाम करीब 5 बजे नाव चलाई गई। इस दौरान 9 वाहन मिले। बताया गया कि इनमें 5 बाइकों, दो कारों और एक कैंटर के अलावा अन्य वाहन थे। किसी आदमी के फंसने की कोई सूचना नहीं थी। शाम 7 बजे तक करीब 11 फीट पानी इस अंडरपास में भरा हुआ था। पानी निकालने में फायर विभाग की 8 गाड़ियां लगी हुई थीं।

मंगलवार को 130 एमएम बरसात से जिला प्रशासन की पानी निकासी की सारी व्यवस्थाएं धराशायी हो गई थीं। इस दौरान हीरो होंडा चौक का अंडरपास भी डूब गया था। अंडरपास में 20 फीट से अधिक पानी भर गया था। बरसात रुकने के बाद फायर विभाग की 8 गाड़ियों के अलावा नगर निगम, जीएमडीए, एनएचएआई और हूडा के पंप ने पानी निकालना शुरू कर दिया। शाम साढ़े 5 बजे तक पानी घटकर करीब 11 फीट तक पहुंच गया। इसके बाद फायर विभाग ने इसके अंदर नाव चलाकर मुआयना किया। जांच में फायर विभाग के कर्मचारियों ने 4 बाइक के अलावा एक कैंटर, दो कार, एक पिकअप और एक इको देखी है। पानी और उतरने के बाद वाहनों की असली संख्या के बारे में पता चल सकेगा। इतना जरूर पता चला है कि कैंटर में दवा भरी हुई थी तो पिकअप भी माल से भरा हुआ था, जो पानी की वजह से खराब हो गया।

फायर विभाग के एएफएसओ रमेश कुमार ने बताया कि इस अंडरपास में नाव चलाकर देखी गई। इस दौरान अभी तक 9 वाहन पानी के अंदर देखे गए हैं। किसी व्यक्ति के पानी के अंदर होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हो सकता है कि इस पानी के अंदर कोई वाहन चालक फंसा रह गया हो, जो अचानक पानी आने के दौरान बाहर नहीं निकल पाया हो। पानी और उतरने पर असली स्थिति निकलकर सामने आएगी। करीब 11 फीट पानी अब रह गया है। इसे युद्धस्तर पर निकाला जा रहा है।

जिंदगी लील सकती है लापरवाही
सेक्टर 12ए मुख्य रोड पर पेट्रोल पंप के सामने नगर निगम की लापरवाही किसी की जिंदगी को लील सकती है। यहां बरसाती ड्रेन की सफाई को लेकर सड़क और फुटपाथ के बीच में बनी बॉक्स ड्रेन पर लगे सीमेंटिड स्लैब को हटा दिया है। दो दिन पहले ड्रेन की सफाई तो कर दी गई, लेकिन अभी तक स्लैब को नहीं रखा गया है। मंगलवार की बरसात के बाद अब इस बॉक्स ड्रेन में पानी लबालब भरा हुआ है, जिससे ड्रेन नहीं दिख रही है। निगम कमिश्नर यशपाल यादव ने कहा कि यदि ड्रेन की सफाई हो गई है तो उसके ऊपर स्लैब रखी जाएगी। यदि अभी नहीं हुई तो ठेकेदार को आदेश जारी किए जाएंगे कि बेरीकेटिंग की जाए।

बुधवार को बारिश से भरा पानी
बुधवार शाम को जैसे ही बरसात शुरू हुई तो जिला प्रशासन हरकत में आ गया। ट्रैफिक पुलिसकर्मी सड़क पर इकट्ठा हो गए। बरसात की वजह से सोहना-गुड़गांव रोड पर भोंडसी के आस-पास जलभराव रहा। इसकी वजह से वाटिका चौक से लेकर भोंडसी और भोंडसी से लेकर वाटिका चौक तक का ट्रैफिक डिस्टर्ब रहा। सेक्टर 49-50 रोड पर गुड अर्थ मॉल के आस-पास भी जलभराव होने से ट्रैफिक व्यवस्था चरमराई। रेलवे रोड और शीतला माता रोड पर भी बरसात से ट्रैफिक व्यवस्था चरमराई। हालांकि ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए पुलिस कर्मी तत्पर नजर आए।

महाजाम से नहीं लिया सबक
पानी निकासी में अफसरों की लापरवाही से संबंधित खबर एनबीटी ने बुधवार के अंक में छापा था। यदि महाजाम के बाद सबक लेते तो हीरो होंडा चौक पर जलभराव नहीं होता। हूडा के प्रशासक, एस्टेट ऑफिस और इंजिनियरिंग सेल के बीच आपसी तालमेल नहीं होने की वजह से बादशाहपुर ड्रेन का निर्माण कार्य तय समय में पूरा नहीं हो सका। पानी निकासी को लेकर किए गए अस्थायी इंतजाम धराशायी हो गए। इस वजह से एक्सप्रेसवे एक बार फिर जाम हो गया।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

श्रीनारायण सिंह हत्याकांड: मृतक के भाई का आरोप- हत्या में स्थानीय नेताओं का हाथ

सीतामढ़ी बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए शिवहर ज़िले से जनता दल राष्ट्रवादी के उम्मीदवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!