मध्य प्रदेश: कांग्रेस के 155 प्रत्याशी तय, दिग्विजय के भाई और बेटे को टिकट

भोपाल

लंबी जद्दोजहद और खींचतान के बाद आखिरकार कांग्रेस ने अपनी पहली सूची जारी कर दी। इस सूची में कुल 155 नाम हैं। इनमें सभी बड़े नेताओं का पूरा ख्याल रखा गया है। दिग्विजय सिंह के भाई और पुत्र दोनों को टिकट दिया गया है। जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी को भी मैदान में उतारा गया है। कांग्रेस ने अपने तीन विधायकों के टिकट काटे हैं और 4 का नाम अभी रोका गया है। बता दें कि पिछले 1 सप्ताह से दिल्ली में कांग्रेस की सूची को लेकर जद्दोजहद चल रही थी। पहले कहा गया था कि शनिवार दोपहर तक सूची जारी कर देंगे, लेकिन रात 9 बजे के बाद आई इस सूची में कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया की पसंद के सभी प्रत्याशियों को जगह मिली है। जिन जगहों पर विवाद है उन्हें रोका गया है।

बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में आए रीवा के अभय मिश्रा और तेंदूखेड़ा के संजय शर्मा को भी टिकट मिला है। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के प्रत्याशी तय करने में देर इसीलिए लगी क्योंकि पार्टी इस बार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती थी। सभी नेताओं की पसंद का ध्यान रखा गया है। भोपाल की 2 सीटों के प्रत्याशी घोषित किए गए हैं, लेकिन बाकी सीटों पर नाम रोक लिए गए हैं।

  • सुमावली अदल सिंह कसाना
  • मुरैना -रघुराज सिंह कसाना
  • दिमनी – गिरराज दंडौतिया
  • अंबाह – कमलेश जाटव
  • अटेर – हेमंत कटारे
  • लहार – डॉ गोविंद सिंह
  • मेहगांव – ओ पी एस भदौरिया
  • ग्वालियर ग्रामीण-मदन कुशवाह
  • ग्वालियर – प्रद्युम सिं
  • ग्वालियर पूर्व – मुन्नालाल गोयस
  • भितरवार- लाखन सिंह
  • डबरा से इमरती देवी सुमन
  • सेवढ़ा – घनश्याम सिंह
  • भांडेर- रक्षा संतराम सरोनिया
  • करेरा – जसवंत जाटव
  • पोहरी- सुरेश राठखेड़ा
  • पिछोर – के पी सिंह
  • चाचौड़ा – लक्ष्मण सिंह
  • राघौगढ़ – जयवर्धन सिंह
  • गुना- शशिकुमार कथूरिया
  • खुरई – अरुणोदय चौधरी
  • सुरखी – गोविंद सिंह राजपूत
  • देवरी -हर्ष यादव
  • नरयावली – सुरेन्द्र चौदधरी
  • सागर – नेवी जैन
  • बंडा- तलवार सिंह लोधी
  • टीकमगगढ़ -यादवेंद्र सिंह
  • पृथ्वीपुर- बृजेन्द्र सिंह
  • निवाड़ी – कैप्टन सुरेन्द्र सिंह यादव
  • खरगापुर – चंदा सिंह गौर
  • महाराजपुर – नीरज दीक्षित
  • चांदला 0- हरिप्रसाद अनुरागी
  • छतरपुर – आलोक चतुर्वेदी
  • बिजावर – शंकर प्रताप सिंह बुंदेला
  • जबेरा – प्रताप सिंह लोधी
  • पवई – मुकेश नायक
  • गुन्नाैर – शिव दयाल बगरी
  • चित्रकूट- नीलांशु चतुर्वेदी
  • रहगांव – कल्पना वर्मा
  • सतना- सिद्धार्थ कुशवाह
  • नागौद- यादवेंद्र सिंह
  • अमरपाटन- राजेन्द्र सिंह
  • सिरमौर – अरुणा तिवारी
  • सिमरिया – त्रिजुगी नारायण शुक्ला
  • त्योंथर से रमाशंकर पटेल
  • मऊगंज – सुखेंद्र सिंह बन्ना
  • देवतालाब – विद्यावती पटेल
  • रीवा – अभय मिश्रा
  • गुढ़- सुंदर लाल तिवारी
  • चुरहट – अजय सिंह
  • सिहावल – कमलेश्वर पटेल
  • चितरंगी – सरस्वती सिंह
  • सिंगरौली – रेणु सिंह
  • धौहनी -कमलेश सिंह
  • बोहरी – रामपाल सिंह
  • जयसिंह नगर – ध्यान सिंह
  • जैतपुर- उमा धुर्वे
  • कोतमा – सुनील सर्राफ
  • अनूपपुर – बिसाहू लाल सिंह
  • पुष्पराजगढ़ -फुंदेलाल सिंह मार्को
  • बरवाड़ा विजय राघवेंद्र सिंह
  • विजयराघौगढ़ – पद्मा शुक्ला
  • बहोगीबंद -सौरभ सिंह सिसौदिया
  • पाटन – नीलेश अवस्थी
  • बरगी – संजय यादव
  • जबलपुर कैंट -आलोक मिश्रा
  • जबलपुर पश्चिम – तरुण भनोट
  • सिहोरा -खिलाड़ी सिंह
  • शाहपुरा -भूपेन्द्र मरावी
  • डिंडौरी -ओंकार सिंह मरकाम
  • बिछिया – नारायणसिंह पट्टा
  • मंडला – संजीव छोटेलाल उइके
  • बैहर- संजय उइके
  • लांजी – हिना लिखीराम कांवरे
  • परसवाड़ा -मधुभगत
  • बरघाट – अर्जुन सिंह ककोरिया
  • सिवनी -मोहन सिंह चंदेल
  • केवलारी – रजनीश हरवंश सिंह
  • गोटेगांव – नर्मदा प्रसाद प्रजापति
  • नरसिंहपुर – लखन सिंह पटेल
  • तेंदुखेड़ा – संजय शर्मा
  • गाडरवाड़ा – सुनीता पटेल
  • अमरवाड़ा- कमलेश शाह
  • सौंसर – विजय चौरे
  • परासिया – सोहन लाल बाल्मीकि
  • मुल्ताई – सुखदेव पांसे
  • बैतूल- निलय कुमार डागा
  • घोड़ाडोंगरी – ब्रह्मा भलावी
  • भैंसदेही – धामू सिंह सिरसाम
  • टिमरनी – अभिजीत शाह
  • हरदा – आर के डोंगे
  • सिवनी मलवा – ओमप्रकाश रघुवंशी
  • सोहागपुर -सतपाल पलिया
  • उदयपुरा – देवेंद्र पटेल
  • भोजपुर – सुरेश पचौरी
  • सांची – प्रभुराम चौधरी
  • सिलवानी – देवेंद्र पटेल
  • विदिशा -शशांक भार्गव
  • गंजबासौदा – निशांक जैन
  • कुरवाई – सुभाष बोहत
  • सिरोंज – अशोक त्यागी
  • शमशाबाद – ज्योत्सना यादव
  • बैरसिया – जयश्री हरिकरण
  • भोपाल – आरिफ अकील
  • भोपाल दक्षिण – पी सी शर्मा
  • आष्टा गोपाल सिंह
  • इछावर शैलेन्द्र पटेल
  • सिहोर- सुरेन्द्र सिंह ठाकुर
  • नरसिंह गढ़ – गिरीश सिंह भंडारी
  • राजगढ़ -बापू सिंह तोमर
  • खिलचीपुर – प्रियव्रत सिंह
  • सारंगपुर -काला मालवीय
  • सुसनेर – महेन्द्र सिंह परिहार
  • आगर – विपिन वानखेड़े
  • शाजापुर – हुकुम सिंह कराड़ा
  • कालापीपल -कुणाल चौधरी
  • सोनकच्छ – सज्जन सिंह वर्मा
  • देवास – जय सिंह ठाकुर
  • बागली – कमल सिंह वस्केले
  • मंधाता – नारायण सिंह पटेल
  • हरसूद -सुखराम सालवे
  • नेपानगर सुमित्रा देवी
  • बुरहानपुर -हामिद काज़ी
  • भीकनगांव -झूमा सोलंकी
  • बड़वाह – सचिन बिड़ला
  • महेश्वर – लिजयलक्ष्मी साधौ
  • कसरावद- सचिन यादव
  • भगवानपुरा – विजय सिंह सोलंकी
  • सेंधवा – ग्यारसी लाल रावत
  • राजपुर – बाला बच्चन
  • बड़वानी – रमेश पटेल
  • जोबट- कलावती भूरिया
  • झाबुआ – विक्रांत भूरिया
  • थांदला – वीर सिंह भूरिया
  • सरदारपुर -प्रताव ग्रेवाल
  • गंधवानी – उमंग सिंगार
  • कुक्षी – सुरेन्द्र सिंह बघेल
  • मनावर -हीरा लाल अलावट
  • धरमपुरी -प्राचीलाल मीणा
  • धार – प्रभा सिंह गौतम
  • बदनावर – राजवर्धन सिंंह दातीगांव
  • इंदौर-3-अश्विन जोशी
  • महू -अंतर सिंह डाबर
  • राऊ -जीतू पटवारी
  • सांवेर- तुलसी सिलावट
  • नागदा – दिलीप सिंह गुर्जर
  • तराना – महेश परमार
  • घट्टिया – रामलाल मालवीय
  • बड़नगर -मुरली मोरवाल
  • रतलाम ग्रामीण -लक्ष्मण सिंह डिंडौर
  • सैलाना -हर्ष विजय गहलोत
  • जौरा – के के सिंह
  • सुवासरा – हरदीप सिंह डांग

दिग्विजय सिंह समेत दिग्गजों का रखा गया पूरा ख्याल
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के पुत्र जयवर्धन सिंह और उनके भाई लक्ष्मण सिंह को विधानसभा प्रत्याशी बनाया गया है। लक्ष्मण सिंह चाचौड़ा से और जयवर्धन सिंह राघोगढ़ से चुनाव लड़ेंगे। इसके अलावा सुरेश पचौरी को भोजपुर विधानसभा क्षेत्र से उतारा गया है। वह पहले भी एक बार लड़ चुके हैं। अन्य प्रमुख लोगों में अजय सिंह, नर्मदा प्रसाद प्रजापति, के पी सिंह, डॉक्टर गोविंद सिंह, गोविंद राजपूत, सुरेश चौधरी आदि को मैदान में उतारा गया है।

नए चेहरों को भी दी गई जगह
पार्टी ने कई जगह नए चेहरे चुने हैं। इसलिए यह माना जा रहा है कि बहुत ज्यादा विवाद नहीं होगा, लेकिन यह भी साफ है कि विवाद है। इसीलिए 75 सीटें रोकी गई हैं। टिकट पाने वालों में कमलनाथ के समर्थक सज्जन वर्मा और जय आदिवासी संगठन के मुखिया डॉ. हीरालाल अलावा भी शामिल हैं। कांग्रेसी सूची को नेताओं के हिसाब से बेहद संतुलित माना जा रहा है। कांग्रेस के प्रत्याशियों को सिर्फ 23 दिन मिलेंगे, लेकिन कांग्रेसी नेताओं को उम्मीद है कि वह इस बार बीजेपी को पटखनी देने में कामयाब रहेंगे।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

‘गर्लफ्रेंड’ के बेडरूम में ड्रामाः DG हुए सस्पेंड, बोले- जहां जाता हूं पत्नी पीछे आ जाती है

भोपाल एमपी के स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा का वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो उनकी पत्नी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
140 visitors online now
12 guests, 127 bots, 1 members
Max visitors today: 233 at 11:52 am
This month: 233 at 09-28-2020 11:52 am
This year: 687 at 03-21-2020 02:57 pm
All time: 687 at 03-21-2020 02:57 pm