Saturday , September 19 2020

IND vs WI: काम नहीं आया कोहली का शतक, विंडीज ने 43 रन से दी मात

पुणे

5 मैचों की वनडे सीरीज के तीसरे मैच में टीम इंडिया को वेस्ट इंडीज से 43 रन से हार का सामना करना पड़ा है। मेहमान टीम ने पहले बैटिंग करते हुए भारत के सामने 284 रन की चुनौती रखी थी। भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली (107) के अलावा कोई भी बल्लेबाज मैच में अपनी छाप नहीं छोड़ पाया और पूरी टीम 240 पर ऑल आउट हो गई। विराट के बाद सबसे ज्यादा रन शिखर धवन (35) ने बनाए।

वेस्ट इंडीज के लिए मार्लन सेम्यूल्स ने सबसे ज्यादा 3 विकेट अपने नाम किए। इसके बाद कप्तान जेसन होल्डर, ओबेड मेककोय और एश्ले नर्स ने 2-2 विकेट आपस में बांटे। इससे पहले विंडीज टीम के लिए पिछले मैच के हीरो शाइ होप ने शानदार 95 रन की पारी खेली। इस मैच के हीरो एश्ले नर्स रहे। उन्होंने पहले बल्ले से 22 बॉल में 40 रन का अहम योगदान दिया और इसके बाद गेंदबाजी में भी 2 महत्वपूर्ण विकेट अपने नाम किए। नर्स को उनके ऑलराउंड खेल के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

अब 3 मैचों के बाद दोनों टीमें एक-एक से बराबरी पर हैं। गुवाहाटी में खेला गया पहला मैच टीम इंडिया ने अपने नाम किया था। इसके बाद विशापत्तनम में मैच टाई रहा और आज इस मैच में विंडीज टीम ने जीत दर्ज कर सीरीज को बराबरी पर रखा है। सीरीज का चौथा मैच सोमवार को मुंबई में खेला जाएगा।

284 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा (8) जेसन होल्डर की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद कप्तान विराट कोहली ने शिखर धवन के साथ मिलकर पारी को संभाला और दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 79 रन जोड़े। इस साझेदारी को एश्ले नर्स ने शिखर धवन (35) को LBW आउट कर तोड़ा। धवन नर्स को स्वीप करने का प्रयास कर रहे थे,लेकिन वह विकेट के सामने पकड़े गए।

इसके बाद अंबाती रायुडू नंबर चार पर बल्लेबाजी करने उतरे। उन्होंने कप्तान का अच्छा साथ दिया। दोनों ने रनगति बनाए रखा और एक-दो रनों के साथ कुछ अच्छे शॉट्स भी जड़े। जब रायुडू जमते हुए नजर आ रहे थे तभी ओबेड मैक्कॉय ने उन्हें बोल्ड कर दिया। रायुडू ने बाएं हाथ के इस गेंदबाज की एक शॉर्ट गेंद को थर्ड मैन का प्रयास किया लेकिन गेंद बल्ले के अंदरूनी हिस्से से लगकर विकेटों से जा टकराई। ऋषभ पंत ने 24 रनों की तेज पारी खेली लेकिन नर्स ने उन्हें विकेट के पीछे शाई होप के हाथों कैच करवाकर भारत को चौथा झटका दिया।

महेंद्र सिंह धोनी एक बार फिर अपने बल्ले से कमाल नहीं दिखा पाए और 7 रन के निजी स्कोर पर वह जेसन होल्डर की गेंद पर विकेटकीपर शाइ होप को आसान सा कैच देकर वापस पविलियन लौट गए। धोनी के रूप में यह टीम इंडिया को 5वां झटका था और अभी टीम जीत से 90 रन दूर खड़ी थी। धोनी के विकेट के साथ ही टीम इंडिया मुश्किल में घर चुकी थी, लेकिन अभी विराट कोहली भारत की उम्मीद बनकर एक छोर को संभाले खड़े थे। विराट का साथ देने यहां भुवनेश्वर कुमार आए, लेकिन 17 बॉल में 10 रन बनाकर भुवी भी पविलियन लौट गए।

जब भुवी आउट हुए तो टीम इंडिया को जीत के लिए 69 रन की दरकार थी और जीत के लिए जरूरी रनरेट लगातार बढ़ता जा रहा था। इस बीच जब टीम का स्कोर 220 था, तो कोहली ने सेम्यूल्स की एक बॉल पर चांस लेना चाहा, लेकिन वह बॉल कोहली को छकाते हुए सीधे स्टंप्स में जा घुसी और यहां से भारत की रही सही उम्मीद भी चली गई। पुछल्ले बल्लेबाज भारत के स्कोर में 20 रन और जोड़ पाए और भारत की पूरी टीम 240 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई।

इससे पहले वेस्ट इंडीज की टीम ने पहले बल्लेबाजी का निमंत्रण मिलने के बाद मेजबान टीम के सामने 284 रन का लक्ष्य रखा था। विंडीज टीम के लिए शाइ होप (95) के बाद एश्ले नर्स (40) ने शानदार पारियां खेलकर मेहमान टीम को इस स्कोर तक पहुंचाया। वहीं पहले 2 वनडे मैचों में आराम के बाद टीम में लौटे जसप्रीत बुमराह ने शानदार वापसी करते हुए 4 विकेट अपने नाम किए। बुमराह ने 10 ओवर में मात्र 35 रन ही खर्च किए। बुमराह के अलावा कुलदीप ने 2, जबकि भुवनेश्वर, खलील और चहल ने 1-1 विकेट अपने नाम किया।

वेस्ट इंडीज को पहला झटका छठे ओवर में लगा जब जसप्रीत बुमराह की गेंद पर चंद्रपॉल हेमराज गलत शॉट खेल बैठे। धोनी ने गेंद से नजर नहीं हटाई और शानदार डाइव लगाकर हेमराज का कैच लपका। हेमराज ने 20 गेंदों पर 2 चौके और 1 छक्के की मदद से 15 रन बनाए। इसके बाद बुमराह की गेंद पर ओपनर कायरन पॉवेल को रोहित शर्मा ने कैच कर पविलियन का रास्ता दिखा दिया। पॉवेल ने 25 गेंदों पर 2 चौके और 1 छक्के की मदद से 21 रन बनाए। वेस्ट इंडीज को तीसरा झटका मार्लोन सैमुअल्स (9) के रूप में लगा। सैमुअल्स ने 17 गेंदों पर 1 चौका लगाया। शिमरोन हेटमेयर (37) कुछ अच्छी फॉर्म में लग रहे थे लेकिन धोनी ने स्टंप्स कर उन्हें पविलियन भेज दिया। फिर रोवमैन पॉवेल (4) को कुलदीप यादव की गेंद पर रोहित शर्मा ने लपका।

छठे विकेट की साझेदारी के लिए कप्तान जेसन होल्डर ने 76 रन जोड़े। दोनों बल्लेबाज अंतिम ओवरों में टीम के खाते में ज्यादा से ज्यादा रन जोड़ने के प्रयास में थे। इसी प्रयास में होल्डर (32) भुवनेश्वर कुमार को ब

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

राहुल गांधी का पुराना फोटो वायरल, APMC एक्ट हटाने की कही थी बात

नई दिल्ली, किसान बिल को लेकर कांग्रेस, केंद्र सरकार का विरोध कर रही है. जबकि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)