Thursday , October 22 2020

दिल्ली में 30 प्रतिशत कोरोना मरीज ‘बाहरी’, अब अलग तरह से दर्ज होंगे आंकड़ेः सत्येंद्र जैन

नई दिल्ली

दिल्ली में इन दिनों के करोना के मामले एक बार फिर बढ़ रहे हैं। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि शहर के अस्पतालों में ऐडमिट कोरोना के 30 प्रतिशत मरीज दूसरे राज्यों से हैं और ज्यादातर ICU बेड उन्हीं की वजह से भरे हैं। जैन ने कहा कि ज्यादातर मरीज दिल्ली के रहने वाले नहीं हैं इसलिए उनकी मौत के आंकड़े अलग से दर्ज किए जाएंगे। उनका कहना है कि राजधानी दिल्ली में देश में सबसे कम मृत्यु दर है।

पिछले 10 दिन के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में कोरोना से मृत्यु दर 0.77 प्रतिशत है। जैन ने कहा, ‘दिल्ली के अस्पतालों (Delhi Hospitals) में भर्ती 30 प्रतिशत मरीज दूसरे राज्यों के हैं। वे पहले से ही सोचकर आते हैं कि कुछ गिने चुने अस्पतालों में ही इलाज करवाएंगे। इनमें मैक्स, अपोलो और फोर्टिस शामिल हैं।’ हालांकि मंत्री ने कहा कि दिल्ली में अब भी 1000 ICU बेड उपलब्ध हैं। पिछले कुछ ही दिनों में लगभग 1500 नॉन आईसीयू और 500 आईसीयू बेड नए जोड़े गए हैं। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में बेडों की उपलब्धता का सारा ब्यौरा ऐप पर मौजूद है।’

जैन ने कहा कि अब दिल्ली के बाहर के लोगों के मौत के आंकड़े अलग से इकट्ठे किए जाएंगे जबकि पहले ऐसा नहीं हो रहा था। मंत्री ने कहा कि दिल्ली में प्लाज्मा की भी कोई कमी नहीं है। जिनको भी जरूरत है वे इंस्टिट्यूट ऑफ लीवर ऐंड बाइलियरी साइंसेज से ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि दूसरे राज्यों की तरह टेस्टिंग में गड़बड़ी की शिकायत यहां नहीं मिली है।

दिल्ली में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 2,46,711 हो गए हैं। एक दिन पहले 3,812 नए केस सामने आए थे। पिछले 6 दिन में यह सबसे कम आंकड़ा था। राजधानी में कोरोना से अब तक 4982 लोगों की जान जा चुकी है। एक दिन में 11,322 आरटी पीसीआर टेस्ट हुए थे और 41,083 ऐंटीजन टेस्ट किए गए।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

इंश्योरेंस पॉलिसी लेते वक्त छिपा ली बीमारी, कंपनी ने नहीं दी क्लेम की रकम तो SC ने दिया

नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट ने अपने अहम फैसले में कहा है कि इंश्योरेंस के लिए …

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!