हर की पौड़ी पहुंचे हॉलिवुड स्टार विल स्मिथ, किया गंगा पूजन और तर्पण

पवित्र हिंदू तीर्थ पहुंचे विल स्मिथ ने श्राद्ध और अन्य कर्मकांड के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। सुपरस्टार ने ‘भगवद् गीता’ भी पढ़ रखी है और इसे अपने जीवन के लिए उपयोगी मानते हैं। भारत की अपनी यात्रा पहुंचे हॉलिवुड के सुपरस्टार विल स्मिथ हरिद्वार स्थित हरकी पैड़ी पहुंच गए।

सनातन हिंदू परंपरा और अध्यात्म में गहरी दिलचस्पी रखने वाले स्मिथ ने विशेष गंगा पूजन और तर्पण भी किया। आगे की तस्वीरों में देखिए हॉलिवुड से हरकी पैड़ी पहुंचे स्मिथ ने किस तरह किया पूजन. श्राद्ध पक्ष की पितृमोक्ष अमावस्या पर हॉलिवुड स्टार विल स्मिथ को भारतीय अध्यात्म दर्शन, सनातन हिंदू परंपरा के आकर्षण हरिद्वार स्थित हरकी पैड़ी तक खींच ले आया।

स्मिथ ने हरकी पैड़ी पर विशेष गंगा पूजन और कनखल के महामृत्युंजय मंदिर में रुद्राभिषेक कर अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति की कामना की। हरिद्वार में उन्होंने ज्योतिषाचार्य से अपनी जन्मपत्री भी बनवाई और उनसे ज्योतिष से लेकर भारतीय आध्यात्म और सनातन हिंदू परंपरा पर अपनी जिज्ञासा व्यक्त कर उसके उत्तर भी पूछे।

ज्योतिषाचार्य ने बताया कि स्मिथ आध्यात्म के अलावा भारतीय धर्म दर्शन में गंगा और हरिद्वार की उपयोगिता और महत्व के बारे में भी जानना चाहते थे। उन्होंने अपने जीवन के कुछ ग्रहदोष विशेष कर शनि दोष का उपाय-निवारण कराया।

स्मिथ ने कनखल के हरिहर आश्रम पहुंचकर भगवान महामृत्यंजय का रुद्राभिषेक भी कराया। इसके बाद वह हर की पौड़ी पर विश्व प्रसिद्ध संध्याकालीन गंगा आरती में भी शामिल हुए। यहां उन्होंने विशेष गंगा पूजन, आरती और गंगा अभिषेक भी किया।

हॉलिवुड सुपर स्टार विल स्मिथ ने अपनी टीम के साथ भारतीय धर्म-आध्यात्म दर्शन की जानकारी एकत्र करने के साथ-साथ उससे जुड़े विभिन्न कर्मकांड, विधि-विधान और पूजन और आरती की शूटिंग भी की। उन्होंने खुद की गंगा आरती और हरकी पैड़ी पर होने वाली सांध्यकालीन गंगा आरती को भी शूट कराया।

पवित्र हिंदू तीर्थ पहुंचे विल स्मिथ ने श्राद्ध और अन्य कर्मकांड के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। सुपरस्टार ने ‘भगवद् गीता’ भी पढ़ रखी है और इसे अपने जीवन के लिए उपयोगी मानते हैं।

Did you like this? Share it:

About editor

Check Also

कृति सैन ने किया पोस्ट जिसमें किसी का नाम नहीं पर इशारों में कहा बहुत कुछ!

कृति सैनन सुशांत सिंह राजपूत की अच्छी दोस्त थीं। उनकी मौत के बाद वह कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)