MP: खतरे के निशान से 8 फीट ऊपर बह रही है नर्मदा, बचाव में लगे हैं IAF के 5 हेलीकॉप्टर

भोपाल

एमपी बारिश जरूर रुक गई है लेकिन अभी बाढ़ से लोगों को राहत नहीं मिली है। बाढ़ ने सबसे ज्यादा तबाही होशंगाबाद में मचाई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अभी तक 2 बार होशंगाबाद जिले का हवाई सर्वे किया है। सीएम ने सोमवार को भोपाल में बाढ़ की स्थिति पर बात की है। उन्होंने कहा है कि होशंगाबाद में नर्मदा अभी भी खतरे के निशान से 8 फीट ऊपर बह रही है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि होशंगाबाद में कई गांव अभी भी जलमग्न हैं लेकिन प्रशासन सब जगह पहुंच गई है।पश्चिमी म.प्र.के कुछ हिस्सों में कल बारिश हुई, जिसके कारण गांधी सागर के बांध के गेट खोले गए हैं और चंबल में लोगों को सतर्क किया गया है।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं IAF, NDRF, SDRF और सभी अधिकारियों को बाढ़ के बीच फंसे लोगों की जान बचाने के लिए धन्यवाद देता हूं। बाढ़ का पानी अब घट रहा है और हम पीने का पानी उपलब्ध कराने, बीमारियों, भोजन के प्रसार को नियंत्रित करने, इससे होने वाले नुकसान, दवाओं आदि के आकलन पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

गौरतलब है कि बाढ़ से एमपी के 9 जिलों में सबसे ज्यादा तबाही हुई है। बाढ़ से करीब 20 लोगों की मौत भी अभी तक हुई है। वहीं, बाढ़ में फंसे 11 हजार लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। सीएम लगातार बाढ़ की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। साथ ही व्यवस्थाओं की मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं।

About bheldn

Check Also

शिवराज लेंगे स्कूल खोलने का निर्णय: गृहमंत्री ने कहा पहले मुख्यमंत्री कोरोना की समीक्षा करेंगे

भोपाल मध्यप्रदेश में 31 जनवरी तक स्कूल बंद रखे जाने की टाइमलाइन नजदीक आती जा …