दिल्ली को फिर से डराने लगा कोरोना, आज 67 दिन का टूट गया रेकॉर्ड

नई दिल्ली

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। दिल्ली में गुरुवार को 2,737 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। शहर में 67 दिन बाद एक दिन में कोविड-19 के सबसे ज्यादा मामले आए हैं। इसके बाद कुल मामले 1.82 लाख के पार चले गए। वहीं मृतक संख्या 4500 हो गई है। सितंबर में यह लगातार तीसरा दिन है जब दो हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं।

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में बताया गया है कि शहर में 19 और मरीजों की मौत हुई है। बुधवार को 19 संक्रमितों की मौत हुई थी और 2509 मामले आए थे। एक सितंबर को मामलों की संख्या 2312 थी। दिल्ली में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 17,692 है जो बुधवार को 16,502 थी। राष्ट्रीय राजधानी में 23 जून को एक दिन में सबसे ज्यादा 3,947 मामले रिपोर्ट हुए थे। बुलेटिन के मुताबिक, गुरुवार को कुल मामले 1,82,306 हो गए और संक्रमण के कारण जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 4500 पहुंच गई।

43% बढ़े होम आइसोलेशन में मरीज
वहीं दूसरी ओर दिल्ली में एक महीने में कोविड-19 का इलाज करा रहे रोगियों की संख्या में 50 प्रतिशत का इजाफा हुआ है, वहीं होम आइसोलेशन में रह रहे रोगियों की संख्या 43 प्रतिशत बढ़ी है। दिल्ली सरकार के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है।

15,870 हुए घरों में आइसोलेट
आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में एक अगस्त को अस्पतालों में इलाज करा रहे या आइसोलेशन में रह रहे कोविड-19 के रोगियों की संख्या 10,596 थी। इनमें से 5,660 घरों में आइसोलेट थे। एक महीने पहले अस्पतालों में 13,578 बिस्तरों में से केवल 2,979 पर मरीज थे। सरकारी आंकड़े दिखाते हैं कि एक सितंबर को घरों में आइसोलेट कोविड-19 रोगियों की संख्या बढ़कर 8,119 हो गई तथा इलाज करा रहे कुल रोगियों की संख्या 15,870 पहुंच गई।

About bheldn

Check Also

मास्क जरूरी-फ्लाइट बैन की मांग, दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला केस-बढ़ेगी सख्ती

नई दिल्ली, दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला मरीज मिलने के बाद दिल्ली सरकार ने अब …