भगोड़े नीरव मोदी के अच्छे दिन खत्म…? भारत को प्रत्यर्पित करने पर सुनवाई शुरू

लंदन

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के भारत प्रत्यर्पण को लेकर दायर मुकदमे की सुनवाई लंदन की अदालत में शुरू हो गई है। वेस्टमिंस्टर मैजिस्ट्रेट की अदालत में इस मामले की सुनवाई अगले पांच दिनों तक चलेगी। माना जा रहा है कि इस दौरान यह साफ हो जाएगा कि नीरव मोदी को भारत कब प्रत्यर्पित किया जाएगा। वहीं, नीरव मोदी के वकील ने अदालत से प्रेस को इस कार्यवाही की कवरेज से दूर रखने का आग्रह किया है।

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले का है मास्टरमाइंड
उल्लेखनीय है कि मोदी ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ करीब दो अरब डॉलर की धोखाधड़ी को अंजाम दिया। इसे लेकर भारत में विभिन्न जांच एजेंसियों ने उनके खिलाफ मामले दर्ज किए हैं। इस मामले में मोदी के सहयोगी मेहुल चौकसी भी भारत में वांछित हैं। ब्रिटेन की क्राउन अभियोजन सेवा (सीपीएस) के जरिए भारत इस वांछित अभियुक्त के प्रत्यर्पण की मांग कर रहा है।

लंदन में मार्च 2019 में हुआ था गिरफ्तार
पिछले साल मार्च में गिरफ्तार होने के बाद नीरव मोदी इस समय दक्षिण लंदन में स्थित वांड्सवर्थ जेल में बंद है। वह जेल से वीडियो लिंक के माध्यम से वेस्टमिंस्टर मैजिस्ट्रेट कोर्ट की कार्यवाही से जुड़ा हुआ है। ब्रिटेन में भी कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अदालतों की कार्यवाही विडियोलिंक के माध्यम से ही की जा रही हैं।

शुक्रवार को खत्म होगी सुनवाई
पांच दिन चलने वाली यह सुनवाई शुक्रवार को समाप्त हो सकती है। न्यायाधीश गूजी ने मई में प्रत्यर्पण के पहले चरण की सुनवाई की अध्यक्षता की थी, जिसके दौरान सीपीएस ने मोदी के खिलाफ धोखाधड़ी और धन शोधन का एक प्रथम दृष्टया मामला कायम करने का अनुरोध किया था। भारत सरकार द्वारा अतिरिक्त ”पुष्टिकारक साक्ष्य” जमा करने के बाद उन दलीलों को पूरा करने के लिए आगामी सुनवाई की जाएगी।

About bheldn

Check Also

MSP गारंटी लागू होने से भड़केगी महंगाई, फसलों पर भी होगा असर; क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

नई दिल्ली किसान आंदोलनकारियों की एमएसपी की मांग को लेकर केंद्र सरकार ने नरमी के …