कमला हैरिस बोलीं- अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में फिर हो सकता है रूस का दखल

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे ही वहां चुनाव प्रचार में भी तेजी आ रही है. साथ ही सरगर्मियां भी तेज हो रही हैं. इसी बीच डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने कहा कि इस बार भी राष्ट्रपति चुनाव में रूस का हस्तक्षेप हो सकता है. इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि इससे उनकी पार्टी को नुकसान हो सकता है.

न्यूज एजेंसी सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में कमला हैरिस कहा कि मेरी स्पष्ट राय है कि रूस ने 2016 में अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में दखल दिया था. मैं सीनेट की खुफिया मामलों की कमेटी में रह चुकी हूं. जो हुआ था उस बारे में हम विस्तृत रिपोर्ट प्रकाशित कर चुके हैं.कमला हैरिस ने आगे कहा कि मुझे लगता है कि 2020 के चुनाव में भी विदेशी दखल होगा और इसमें रूस की अग्रणी भूमिका होगी. यह पूछे जाने पर कि क्या इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा, उन्होंने जवाब दिया कि सैद्धांतिक रूप से कहें तो निश्चित तौर पर नुकसान होगा.

भारतवंशी कमला हैरिस कैलिफोर्निया की सीनेटर हैं. डेमोक्रेटिक पार्टी ने उन्हें उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है. वे अपने चुनाव प्रचार में लगातार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर हमलावर हैं. अमेरिका में तीन नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होगा.बता दें कि डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से जो बाइडेन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार हैं. रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए डोनाल्ड ट्रंप और उपराष्ट्रपति पद के लिए माइक पेंस उम्मीदवार होंगे.

About bheldn

Check Also

तालिबानी हमले में ईरान के कम से कम 9 सैनिकों की मौत, 3 चेक पोस्‍टों पर कब्‍जे का दावा

तेहरान/काबुल तालिबान और ईरान के बीच निमरोज प्रांत के पास भीषण संघर्ष हुआ है। तालिबानी …