चॉपर क्रैश : दोषी एयरफोर्स अफसरों के खिलाफ ऐक्‍शन पर रोक

श्रीनगर

बालाकोट एयर स्ट्राइक के अगले दिन श्रीनगर में हुए हेलिकॉप्टर हादसे के मामले में मिलिट्री कोर्ट ने सेना के अफसरों पर होने वाली कार्रवाई पर स्टे लगा दिया है। फरवरी 2019 में यह हादसा मध्य कश्मीर के बडगाम जिले में हुआ था, जिसमें भारतीय वायुसेना के 6 जवान शहीद हुए थे।बडगाम में हुए इस हादसे के दिन पाकिस्तान के विमान भारतीय सेना में घुसे थे, जिन्हें भारतीय वायु सेना के फाइटर जेट्स ने खदेड़ डाला था। इसी दिन वायु सेना का एक हेलिकॉप्टर बडगाम के एयरबेस पर लौटने के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इसमें हेलिकॉप्टर के दो पायलट्स और 4 अन्य वायुसेना कर्मी शहीद हो गए थे।

मिलिट्री कोर्ट में दी गई थी चुनौती
इस मामले में एयरफोर्स के दो अफसरों ग्रुप कैप्टन एसआर चौधरी और विंग कमांडर श्याम नैथानी को कोर्ट ऑफ इंक्वायरी में दोषी बताया गया था। इस फैसले को मिलिट्री कोर्ट में चुनौती दी गई थी।कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि कोर्ट ऑफ इंक्वायरी में प्रथम दृष्टया नियमों का उल्लंघन होता दिखता है, ऐसे में फिलहाल दोनों अफसरों पर कार्रवाई पर रोक लगाई जाए। अदालत ने इस मामले में 30 सितंबर को अगली सुनवाई करने की बात कही है।

About bheldn

Check Also

मास्क जरूरी-फ्लाइट बैन की मांग, दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला केस-बढ़ेगी सख्ती

नई दिल्ली, दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला मरीज मिलने के बाद दिल्ली सरकार ने अब …