हिलती एम्बुलेंस पर लोगों को शक हुआ तो बुलाई पुलिस, सामने आई शर्मनाक घटना

वाराणसी,

कोरोना काल में मरीजों के लिए एंबुलेंस की किल्लत से हर कोई वाकिफ है, लेकिन अगर उसी एंबुलेंस में लोग रंगरेलियां मनाते हुए पकड़े जाएं तो इससे ज्यादा शर्मनाक कुछ और नहीं हो सकता है. उत्तर प्रदेश के वाराणसी से ऐसा ही एक मामला सामने आया है. दरअसल, यह पूरी घटना वाराणसी स्थित रामनगर थाना क्षेत्र की है, यहां सुजाबाद चौकी इलाके में कुछ ऐसा ही हुआ. तीन युवक और एक युवती को एंबुलेंस में रंगरेलियां मनाते हुए पुलिस ने पकड़ लिया और एंबुलेंस जब्त करके चारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेज दिया है.यह सब तब हुआ जब सुजाबाद पुलिस चौकी के पास सुनसान इलाके में बंद एंबुलेंस को लोगों ने हिलते हुए पाया, काफी समय बाद भी जब एंबुलेंस वहां से नहीं हटी, तब इलाके के लोगों को शक हुआ और उन्होंने पुलिस को बुलाकर छानबीन करवाई तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ.

पुलिस ने बंद एंबुलेंस से तीन युवक और एक युवती को बाहर निकाला. इसके बाद रामनगर थाने पर चारों को और एंबुलेंस को भी ले जाय गया. तीनों युवक और युवती के खिलाफ सार्वजनिक स्थल पर ऐसी हरकत करने के आरोप में रामनगर थाने में मुकदमा पंजीकृत करके जेल भेज दिया गया. इसके साथ ही एंबुलेंस को भी जब्त कर लिया गया.

इस बारे में कोतवाली सर्किल के एसीपी प्रवीण सिंह ने बताया कि चारों लोगों के खिलाफ सार्वजनिक स्थल पर अश्लील हरकत करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और एंबुलेंस भी जब्त कर ली गई है.उन्होंने बताया कि एंबुलेंस मंडुआडीह क्षेत्र के गंगा सेवा सदन नामक एक निजी अस्पताल की है, जिसे अस्पताल वालों ने एक युवक को किराए पर चलाने के लिए दे रखा था. इसके अलावा इस अस्पताल की पहले भी कई और शिकायतें और अनियमितताएं मिल चुकी हैं जिसकी अभी जांच चल रही है.

यह भी बताया गया कि पहले तो लोगों को समझ नहीं आया कि इस सूनसान इलाके में यह एंबुलेंस क्यों खड़ी है. हालांकि वह काफी देर तक जब खड़ी रही तो लोगों को शक होना शुरू हुआ क्योंकि एंबुलेंस हिल भी रही थी. लोगों ने तत्काल पुलिस को सूचना दे दी.बता दें कि इस कोरोना काल में आए दिन एंबुलेंस चलाने वालों की मनमानी सामने आ रही है. देश के तमाम हिस्सों से ऐसे मामले आ चुके हैं जब लोगों की मजबूरी का फायदा उठाकर एंबुलेंस वालों ने मनमाने पैसे वसूले. लोग मजबूरी में पैसे देते भी गए.

हाल ही में दिल्ली सरकार ने ऐसे एंबुलेंस ड्राइवर के खिलाफ सख्त एक्शन लेने को कहा है, जो इस महामारी के दौर में भी इंसानियत नहीं दिखा रहे और लोगों से मनमाना किराया वसूल रहे हैं. दिल्ली सरकार ने ये फैसला आजतक के एक स्टिंग ऑपरेशन के बाद लिया है.दिल्ली में इस स्टिंग ऑपरेशन के बाद दिल्ली सरकार ने आजतक का धन्यवाद देते हुए ऐसे एंबुलेंस ड्राइवर के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने का भरोसा दिया है. दिल्ली सरकार ने कहा कि हम ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लेंगे जो इस संकट की स्थिति में भी मुनाफाखोरी कर रहे हैं.

About bheldn

Check Also

न पीऊंगा और न पीने दूंगा… शराबबंदी पर बिहार DGP ने दिलाई पुलिसवालों को शपथ

पटना बिहार में सभी सरकारी विभागों के प्रधान व कर्मियों सहित पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *