सोने के भाव में लगातार दूसरे दिन तेजी, चांदी 2021 रुपये उछली

वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के रुख के अनुरूप राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को सोने का भाव 333 रुपए बढ़कर 47,833 रुपए प्रति दस ग्राम हो गया है। कोरोना संकट के बीच लॉकडाउन में ढील, शादी विवाह के मौसम, व्यापार और उपभोक्ता धारणा में सुधार आने से सोने के भाव में मजबूती का रुख देखा जा रहा है।मूल्य के लिहाज से सोने की मांग चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 57 प्रतिशत बढ़ी है। अब यह 58,800 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो एक साल पहले इसी तिमाही में 37,580 करोड़ रुपये रही थी। साल 2020 की पहली तिमाही में भारत में सोने की मांग 102 टन रही थी।

सोने-चांदी का हाल
वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के रुख के अनुरूप राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को सोने का भाव 333 रुपये बढ़कर 47,833 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया। एचडीएफसी सिक्युरिटीज के अनुसार इससे पिछले सत्र में सोने का भाव 47,500 रुपये पर था। मांग बढ़ने के कारण चांदी भी 2,021 रुपये के उछाल के साथ 73,122 रुपये प्रति किलो हो गई। इससे पिछले दिन चांदी 71,101 रुपये पर बंद इुई थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना लाभ के साथ प्रति औंस 1,869 डॉलर बोला गया, जबकि चांदी 28.48 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही। एचडीएफसी सिक्युरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा, ‘‘अमेरिकी डॉलर के कमजोर होने से सोने की कीमतों को समर्थन प्राप्त हुआ।”

सोना वायदा का हाल
कमजोर मांग के बीच सटोरियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे स्थानीय वायदा बाजार में मंगलवार को सोने का भाव 171 रुपये की गिरावट के साथ 48,303 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में जून महीने की डिलिवरी के लिये सोने की कीमत 171 रुपये यानी 0.35 प्रतिशत की गिरावट के साथ 48,303 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गई। इसमें 6,693 लॉट के लिये कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से सोना वायदा कीमतों में हानि दर्ज हुई। वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोने की कीमत 0.12 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,869.80 डॉलर प्रति औंस हो गया।

चांदी वायदा में भी तेजी
मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में मंगलवार को चांदी की कीमत 469 रुपये की तेजी के साथ 73,793 रुपये प्रति किलो हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के जुलाई डिलीवरी वाले वायदा अनुबंध का भाव 469 रुपये यानी 0.64 प्रतिशत की तेजी के साथ 73,793 रुपये प्रति किलो हो गया। इस वायदा अनुबंध में 12,370 लॉट के लिये सौदे किये गये। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि घरेलू बाजार में तेजी के रुख के कारण कारोबारियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे चांदी वायदा कीमतों में तेजी आई। वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 1.29 प्रतिशत की तेजी के साथ 28.64 डालर प्रति औंस हो गया।

एक दिन पहले गोल्ड के भाव
सोमवार को सोने के भाव 348रुपये प्रति 10 ग्राम चढ़कर 47547 रुपये  पर पहुंच गए थे। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने कहा है कि सोने के भाव में मजबूती की वजह ग्लोबल ट्रेंड रही है। पिछले दिन के कारोबार में सोना 47199 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। सोमवार को चांदी के भाव में भी ₹936 प्रति किलो की तेजी दर्ज की गई थी और यह 71310 रुपये प्रति किलोग्राम के लेवल पर पहुंच गया था।

गोल्ड के भाव तेज क्यों?
अमेरिकी बांड यील्ड में कमजोरी की वजह से सोने के कारोबारियों का सेंटीमेंट मजबूत हो रहा है। सोने के भाव में तेजी जारी है और अनुमान लगाया जा रहा है कि यह भाव 3 महीने की तेजी के आसपास रह सकता है। इसकी वजह डॉलर के भाव में कमजोरी और यूएस बांड यील्ड में कमी है। अमेरिका में पिछले हफ्ते आए आर्थिक आंकड़ों की वजह से सोने में तेजी दर्ज की जा रही है। पिछले साल महामारी की वजह से लोग निवेश का सुरक्षित ठिकाना ढूंढ रहे थे, इस कारण दिल्ली सराफा बाजार में सोने का हाजिर भाव अगस्त 2020 में 57000 रुपये प्रति 10 ग्राम के पार चला गया था।

About bheldn

Check Also

अगले साल से ATM से पैसे निकालना हो जाएगा महंगा, जानिए प्रति ट्रांजेक्शन कितना लगेगा चार्ज

नई दिल्ली नए साल यानी 1 जनवरी से एटीएम से कैश निकालना महंगा हो जाएगा। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *