UP के गोरखपुर में ‘चमत्कार’, वैक्सीन लगी नहीं मगर जारी हो गया सर्टिफिकेट

गोरखपुर

कोरोना वायरस के बढ़ते मामले के बीच गोरखपुर स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां युवक को बिना टीकाकरण के भारत सरकार का वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट जारी कर दिया गया। इसके बाद युवक ने सीएमओ सहित अन्य अधिकारियों से शिकायत की। अधिकारियों का कहना है कि पोर्टल के फॉल्ट से ऐसी गड़बड़ी हुई है।

जानकारी के मुताबिक, गोरखपुर के उनवल निवासी अनिरुद्ध का स्लॉट खजनी स्वास्थ्य केंद्र पर बुक था। जब वह वहां पहुंचे तो कर्मचारी ने किसी फॉल्ट की वजह से टीकाकरण करने से मना कर दिया। इसके बाद अनिरुद्ध अपने मोबाइल फोन में स्लॉट बुकिंग दिखाई लेकिन कर्मचारी ने कहा कि जब तक पोर्टल पर नहीं दिखेगा हम टीका नहीं लगा सकते।

शिकायत पर किसी अधिकारी ने नहीं दिया ध्यान
अनिरुद्ध ने स्वास्थ्य विभाग की इस लापरवाही की जानकारी डीएम, एडीएम, सीएमओ, एडिशनल सीएमओ को फोन पर दी लेकिन किसी ने भी मामले को गंभीरता से नहीं लिया। परेशान होकर पीड़ित ने स्टेट कंट्रोल रूम में फोन कर शिकायत की। वहां से जवाब मिला की अगर आपका स्लॉट बुक है तो टीका लगाया जा सकता है लेकिन अनिरुद्ध बिना टीका लगवाए ही घर लौट आए।

बिना टीका लगवाए जारी हो गया प्रमाण पत्र
घर लौटने के दो घंटे बाद उनके मोबाइल पर टीका लगने का मैसेज और भारत सरकार का प्रमाण पत्र पहुंच गया। इस बात की सूचना जब उन्होंने खजनी स्वास्थ्य केंद्र को दी तो प्रभारी ने कहा, ‘कोविन पोर्टल की फॉल्ट की वजह से मैसेज चला गया होगा। आ जाइए हम टीका लगा देंगे।’ इस मामले में सीएमओ सुधाकर पांडेय ने बताया कि कोविन पोर्टल पर गड़बड़ी की वजह से ऐसा हो गया है, आईटी विभाग से बात कर उसे ठीक कराया जा रहा है।

About bheldn

Check Also

उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह को किया सस्पेंड

नई दिल्ली मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को महाराष्ट्र सरकार ने गुरुवार को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *