योगी आदित्यनाथ का दावा, हार गई कोरोना की दूसरी लहर, अब सुरक्षित है यूपी

नई दिल्ली

देश में कोरोना संक्रमण के लगभग 2 लाख मामले अभी भी हर दिन आ रहे हैं। इधर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवरिया में कहा है कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ गयी है। अब राज्य के लोग सुरक्षित हैं। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि कोविड जांच में उत्तर प्रदेश हर दिन एक नया रिकॉर्ड बना रहा है।

कोविड प्रभावित जिलों के अपने राज्यव्यापी दौरे के हिस्से के रूप में देवरिया की अपनी यात्रा के दौरान, आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी सबसे अधिक आबादी वाला राज्य है, चुनौतियां कई गुना थीं, लेकिन टीम वर्क और “ट्रेस, टेस्ट एंड ट्रीट” के मंत्र के प्रभावी कार्यान्वयन के साथ प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने कम समय में व्यापक और सकारात्मक परिणाम दिया है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कुछ विशेषज्ञों की आशंकाओं के विपरीत, राज्य सुरक्षित हालत में पहुंच गया है।

उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों द्वारा अनुमान लगाया गया था कि उत्तर प्रदेश में कोविड -19 की दूसरी लहर के दौरान बढ़ी हुई संक्रमण दर के कारण मई के महीने में हर दिन एक लाख मामले राज्य में आएंगे। 15 मई तक राज्य में 30 लाख एक्टिव केस हो जाएंगे। लेकिन वर्तमान में राज्य में मात्र 62 हजार एक्टिव केस ही हैं।

सीएम ने कहा कि राज्य में सख्त लॉकडाउन नहीं करने के उनकी सरकार के फैसले ने लोगों की आजीविका को बचाने में मदद की है। उन्होंने कहा कि सख्त लॉकडाउन के बजाय, हमने जीवन और आजीविका की रक्षा के लिए आंशिक कोरोना कर्फ्यू लगाया। जिस कारण कृषि क्षेत्र, फल और सब्जी मंडियों और अन्य सभी आवश्यक सेवाओं में कोई समस्या नहीं आयी।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 300 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं, जिसमें देवरिया में चार ऑक्सीजन प्लांट लगाने की योजना है।

उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में तीन लाख 58 हजार 273 नमूनों की जांच की गई है। इसमें एक लाख 48 हजार नमूने आरटीपीसीआर के लिए जिलों से भेजे गए हैं। योगी ने कहा ‘‘एक दिन में इतनी जांच करने वाला एकमात्र राज्य उत्तर प्रदेश है। वर्तमान में जांच संक्रमण दर मात्र एक फीसदी रह गई है। ’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि 18 से 44 साल आयु वर्ग का टीकाकरण तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि एक जून से सभी 75 जिलों में 18 से 44 साल आयु वर्ग के लोगों के कोविड टीकाकरण का कार्यक्रम शुरू हो रहा है। न्यायिक सेवा के लोगों, मीडिया प्रतिनिधियों के अलावा शिक्षकों व कर्मचारियों के टीकाकरण के लिए सभी जिलों में दो-दो केंद्र बनाये जाएं।

 

About bheldn

Check Also

Omicron से सरकारें सहमीं, उत्तराखंड में स्कूल-शादियों पर सख्ती, ओडिशा के CM ने किया अलर्ट

देहरादून, कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर केंद्र समेत राज्य सरकारें अलर्ट हो गई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *