सरकार को चुभी ममता की ‘बदसलूकी’, कहा- अक्‍खड़ व्‍यवहार से कर रही हैं बंगाल के लोगों का नुकसान

नई दिल्‍ली

भीषण चक्रवाती तूफान यास को लेकर शुक्रवार को प्रधानमंत्री की समीक्षा बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के रवैये पर सरकार ने अफसोस जताया है। सरकार के सूत्रों ने दीदी के रुख को मनमाना, अहंकारी, अप्रत्‍याशित और लोगों के लिए नुकसानदायक करार दिया है। उन्‍होंने कहा कि इससे संघवाद के ढांचे को चोट पहुंचेगी।

सूत्रों ने बताया कि ओडिशा और पश्चिम बंगाल का एरियल सर्वे करने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी का विमान कलाईकुंडा एयरबेस पर उतरा। जब प्रधानमंत्री समीक्षा बैठक में पहुंचे तो वहां पश्चिम बंगाल से कोई नहीं था। ममता और बंगाल के मुख्‍य सचिव दोनों एक ही भवन में मौजूद थे। इसके बावजूद वे पीएम को लेने नहीं पहुंचे।

एक आधिकारिक सूत्र ने कहा कि प्रधानमंत्री, गर्वनर जगदीप धनखड़ और अन्‍य केंद्रीय मंत्री इस बैठक में पहुंचे हुए थे। उन्‍होंने बड़े धैर्य से करीब आधे घंटे तक इंतजार किया। फिर अचानक ममता बनर्जी पहुंची। तूफान के असर पर पीएम को आनन-फानन में कागजों का एक पुलिंदा थमाया। इसके बाद चलती बनीं। सीएम ने बताया कि उन्‍हें कई और जगह भी जाना है।

हठी रवैये से बंगाल को नुकसान
सरकारी सूत्रों ने बताया कि इतना ही नहीं, दीदी ने मुख्‍य सचिव और गृह सचिव जैसे बंगाल के अफसरों को भी प्रजेंटेशन की अनुमति नहीं दी। एक सूत्र ने कहा कि पीएम ने बंगाल को हुए नुकसान की समीक्षा के लिए समय निकाला। लेकिन, सीएम की राजनीति और संकीर्णता ने इस समीक्षा पर पानी फेर दिया। ऐसा करके ममता सिर्फ बंगाल के लोगों के हितों को नुकसान पहुंचा रही हैं।

उन्‍होंने कहा कि आजाद भारत के इतिहास में शायद किसी राज्‍य के सीएम ने पीएम और गवर्नर जैसे संवैधानिक पदों पर बैठे व्‍यक्तियों के साथ इस तरह का बर्ताव न किया हो। ममता का रवैया दुर्भाग्‍यपूर्ण है। यह अहंकार से भरा हुआ है। यह अलग बात है कि उनके इस रवैये से लोगों का नुकसान हो रहा है। वह भी तब जब देश मुश्किल दौर से गुजर रहा है।

1,000 करोड़ रुपये की मदद का एलान
वहीं, प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल के लिए 1,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज का एलान किया है। यह पैकेज साइक्‍लोन यास से हुए नुकसान की भरपाई के लिए दिया गया है।

About bheldn

Check Also

‘कांग्रेस-मुक्त भारत’ अभियान में बीजेपी की हमराह बनती क्यों दिख रही हैं ममता

नई दिल्ली पहले अलग-अलग राज्यों में कांग्रेस के असंतुष्ट नेताओं को टीएमसी में शामिल कराना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *