वर्चुअल मीटिंग में अचानक जुड़कर PM मोदी ने छात्रों को चौंकाया, पूछा मार्किंग का तरीका

नई दिल्ली,

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को एक बार फिर चौंका दिया. इस बार वो अचानक ही छात्रों की वर्चुअल मीटिंग में जुड़ गए और उनसे बात करने लगे. ये वर्चुअल मीटिंग शिक्षा मंत्रालय की ओर से बुलाई गई थी. इस मीटिंग में छात्रों के साथ-साथ उनके पैरेंट्स भी मौजूद थे. इस मीटिंग में पीएम के जुड़ने का पहले से कोई प्लान नहीं था. सबकुछ अचानक ही हुआ.

जानकारी मिली है कि पीएम मोदी काफी कम वक्त के लिए इस वर्चुअल मीटिंग में जुड़े थे. उन्होंने कुछ छात्रों से बात भी की. सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद अब सबसे बड़ा सवाल असेसमेंट को लेकर ही है. हर जगह यही चर्चा है कि एग्जाम नहीं हुए हैं तो पास किस आधार पर किया जाएगा? बताया जा रहा है कि मीटिंग में प्रधानमंत्री ने कुछ बच्चों से इस मसले को लेकर भी बात की. उन्होंने छात्रों से मार्किंग का तरीका पूछा.

कोरोना के चलते 12वीं की परीक्षाएं कैंसिल
कोरोना संक्रमण के चलते सीबीएसई बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं कैंसिल किए जाने की मांग की जा रही थी. 1 जून को प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में बोर्ड एग्जाम रद्द करने का फैसला लिया गया. इससे पहले 10वीं बोर्ड के एग्जाम रद्द किए जा चुके थे.

कैसे तैयार होगा छात्रों का रिजल्ट?
अब सबसे बड़ा सवाल यही है कि छात्रों का रिजल्ट कैसे तैयार होगा? अभी इसके नियमों को साफ नहीं किया गया है. लेकिन सीबीएसई के सेक्रेटरी अनुराग त्रिपाठी का कहना है कि मार्किंग क्राइटेरिया तय करने के लिए दो हफ्ते का समय लगेगा. मीटिंग में भी पीएम मोदी ने सीबीएसई के अधिकारियों से कहा था कि छात्रों का रिजल्ट वेल डिफाइंड मानदंडों के आधार पर तैयार किया जाए.

About bheldn

Check Also

शाह से एक मुलाकात का असर, मनजिंदर सिरसा ने बताया क्यों भाजपा में आए

नई दिल्ली शिरोमणि अकाली दल (SAD) के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने दिल्ली सिख गुरुद्वारा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *