LAC पर पीछे केवल भारत हटा है, चीन तो आगे ही बढ़ा है- BJP सांसद ने सरकार के दावे पर कसा तंज

नई दिल्ली

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी लगातार केंद्र सरकार को आंतरिक सुरक्षा और विदेशी मुद्दों को लेकर घेरते रहे हैं। इसी सिलसिले में उन्होंने हाल ही में मोदी सरकार को चीन की चालबाजी को लेकर सतर्क रहने की नसीहत दी थी। इतना ही नहीं पाकिस्तान और एलओसी जैसे संवेदनशील मुद्दों पर भी स्वामी काफी मुखर रहे हैं। इस बीच लद्दाख स्थित LAC पर भारत और चीन के बीच तनाव कम न होने का दावा करने वाली एक रिपोर्ट पर स्वामी ने कहा कि उन्हें महसूस हो रहा है कि टकराव वाली जगह से सिर्फ भारत ही पीछे हटा, जबकि चीन आगे बढ़ गया।

क्या बोले सुब्रमण्यम स्वामी?: दरअसल, ट्विटर पर एक यूजर ने सुब्रमण्यम स्वामी को टैग करते हुए कहा, “टकराव के एक साल बाद भी भारत और चीन को अपने तनावों को कम करना है।” यूजर ने ट्वीट में एक रिपोर्ट भी शेयर की, जिसमें कहा गया कि लद्दाख स्थित एलओसी पर दोनों देशों के बीच स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। इसे लेकर ही सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, “सच में? विदेश मंत्रालय ने ऐलान किया था कि सभी वापसी हो चुकी हैं। अब मुझे महसूस हो रहा है कि सिर्फ भारत ने ही वापसी की, जबकि चीन और आगे बढ़ गया।”

चीन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की वकालत कर चुके हैं स्वामी: बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी लगातार केंद्र सरकार से चीन पर कड़ी कार्रवाई करने की अपील करते रहे हैं। उन्होंने पिछले महीने ही कहा था कि चीन भारत और भूटान की जमीन पर कब्जा कर रहा है। ऐसे में डरपोक बनकर चीन को जवाब नहीं दिया जा सकता है। इतना ही नहीं इसके कुछ दिन बाद उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए ट्विटर पर लिखा था कि इस सरकार में किसी ने चीन की तरफ से लद्दाख में भारतीय जमीन घेरे जाने और इस हरकत को रोक पाने में नाकाम रहने की जिम्मेदारी भी नहीं ली है।

एक दिन पहले अपने शादीशुदा जीवन का जिक्र कर रहे थे स्वामी: भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी पिछले कुछ सालों में सोशल मीडिया को अपना बड़ा हथियार बना चुके हैं। इन्हीं के जरिए वे बीते काफी दिनों से अपनी पार्टी को भी घेरने में जुटे हैं। हालांकि, गुरुवार का दिन इसमें कुछ अलग था। उन्होंने ट्विटर पर कहा था, “रोक्सना से मेरी शादी के 55 साल पूरे होने पर आपकी शुभकामनाओं का आभार। जैसा कि उन्होंने किताब में लिखा है कि यह उनके लिए रोलर कोस्टर राइड जैसा रहा। लेकिन फिर भी उन्होंने इसे गुजार लिया।” बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी की शादी 10 जून 1966 को हुई थी। स्वामी की तरह ही उनकी पत्नी भी सुप्रीम कोर्ट की वकील हैं।

About bheldn

Check Also

नगालैंड फायरिंग पर सियासी उबाल, राहुल बोले- MHA क्या कर रहा है?

नई दिल्ली, नागालैंड में शनिवार को हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना में 14 लोगों की मौत को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *