देश में पहली बार घर जाकर लगाया जाएगा कोरोना टीका, एक साथ 10 को डोज

नई दिल्ली

कोरोना महामारी से जारी लड़ाई के बीच अब देश में ‘डोर टू डोर’ वैक्सीनेशन की प्रक्रिया की शुरुआत की गई है। राजस्थान का बीकानेर शहर देश का पहला शहर होगा जहां इस ‘डोर टू डोर’ वैक्सीनेशन ड्राइव को लॉन्च किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक सोमवार से इस ड्राइव की शुरुआत की जाएगी। अभी इस ड्राइव के दौरान 45 से ज्यादा के उम्र के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। दो एंबुलेंस और तीन मोबाइल टीमें इस काम के लिए तैयार हैं। इस काम को अंजाम देने के लिए राज्य प्रशासन ने एक हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत की है। इस नंबर पर व्हाट्सऐप कर लोग अपना नाम और पता दर्ज कर वैक्सीन के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

बताया जा रहा है कि जब 10 लोगों का रजिस्ट्रेशन होगा तब ही वैक्सीन वैन घर पहुंचेगी। दरअसल ऐसा इसलिए, क्योंकि वैक्सीन की एक शीशी से 10 लोगों को डोज दिया जाता है। वैक्सीन के डोज बर्बाद ना हों इसी लिए 10 लोगों की संख्या निर्धारित की गई है। वैक्सीन वैन एक पते पर लोगों को डोज पड़ जाने के बाद वहां से दूसरे पते पर चली जाएगी। लेकिन एक मेडिकल टीम वैक्सीन लेने वाले लोगों पर नजर रखने के लिए थोड़ी देर तक उनके साथ रुकेगी।

बीकानेर, राज्य की राजधानी जयपुर से करीब 340 किलोमीटर दूर है। यहां 16 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैं। इन स्वास्थ्य केंद्रों को भी जानकारी रहेगी कि उनके इलाके में इस काम में कौन सी टीम लगी हुई है। बीकानेर की कलेक्टर नमीता मेहता ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि ‘विशेषज्ञ कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जता रहे हैं।

हमारा लक्ष्य है कि 45 से ज्यादा के उम्र के 75 प्रतिशत लोगों को यह वैक्सीन दिया जाए। इसलिए घर पर वैक्सीन देने की यह प्रक्रिया काफी प्रभावकारी साबित हो सकती है।’बता दें कि 2011 की जनगणना के मुताबिक बीकानेर शहर की आबादी 7 लाख से ज्यादा है। अब तक यहां 3,69,000 लोगों को वैक्सीन दिया जा चुका है।

About bheldn

Check Also

आसमान में क्या थी चमकीली चीज? पंजाब-जम्मू में लोग हैरान; देखें वीडियो

पठानकोट पंजाब के पठानकोट और जम्मू-कश्मीर के कुछ जिलों में शुक्रवार शाम आसमान में एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *