आज अडानी को बड़ा वाला झटका, कुछ मिनटों में उड़ गए 1.03 लाख करोड़

नई दिल्ली

दिग्गज उद्योगपति गौतम अडानी की अगुवाई वाले अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में आज भारी गिरावट आई जिससे एक ही दिन में उनका मार्केट कैप करीब 1.03 लाख करोड़ रुपये कम हो गया। नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड ने तीन विदेशी फंड्स Albula Investment Fund, Cresta Fund और APMS Investment Fund के अकाउंट्स फ्रीज कर दिए हैं। इनके पास अडानी ग्रुप की 4 कंपनियों के 43,500 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के शेयर हैं।

साथ ही माना जा रहा है कि सेबी अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों की price manipulation की भी जांच कर रहा है। पिछले एक साल में इन कंपनियों के शेयरों में 200 से 1000 फीसदी तक की उछाल आई है। मामले के एक जानकार ने कहा कि सेबी ने 2020 में इस मामले के जांच शुरू की थी जो अब भी चल रही है। इन खुलासों के कारण आज अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई। इस कारण उनका कुल मार्केट कैप 10 फीसदी से ज्यादा यानी 1.03 लाख करोड़ रुपये गिर गया।

किसमें कितनी गिरावट
अडानी एंटरप्राइजेज का शेयर बाजार खुलते ही 10 फीसदी की गिरावट के साथ लोअर सर्किट छू लिया। कुछ देर बाद शेयर में कारोबार फिर शुरू हुआ, लेकिन फिर 5 फीसदी की गिरावट आई और दोबारा लोअर सर्किट लग गया। अडानी ग्रीन का शेयर भी बाजार खुलने के कुछ ही देर बाद 5 फीसदी तक गिर गया और इस पर लोअर सर्किट लग गया। अडानी टोटल गैस, अडानी ट्रांसमिशन और अडानी पावर के शेयर भी लोअर सर्किट से नहीं बच सके। अडानी पोर्ट्स के शेयर में 17 फीसदी से अधिक की गिरावट आई।

एनालिस्ट्स ने दी दूर रहने की सलाह
विश्लेषकों ने निवेशकों को फिलहाल अडानी ग्रुप के शेयरों से दूर रहने की सलाह दी है। उनका कहना है कि अभी इनमें काफी जोखिम है। इनमें काफी उतारचढ़ाव देखने को मिल सकता है। उनका कहना है कि आज से अडानी ग्रुप की 4 कंपनियों के शेयर T2T (ट्रेड टु ट्रेड) में शिफ्ट हो गए हैं। इसका मतलब है कि इंट्राडे ट्रेडिंग की अनुमति नहीं होगी। निवेशकों को सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि अडानी ग्रुप के शेयर बाकी कंपनियों के मुकाबले बहुत हाई वैल्यूशन पर ट्रेड कर रहे हैं। फिलहाल इनसे दूर रहने की जरूरत है।

पिछले एक साल में अडानी ट्रांसमिशन के शेयरों में 669 फीसदी, अडानी टोटल गैस के शेयरों में 349 फीसदी, अडानी एंटरप्राइजेज के शेयरों में 972 फीसदी और अडानी ग्रीन के शेयरों में 254 फीसदी तेजी आई है। इसी तरह अडानी पोर्ट्स और अडानी पावर के शेयरों में क्रमशः 147 फीसदी और 295 फीसदी उछाल आई है। शुक्रवार को अडानी ग्रुप का कुल मार्केट कैप 9.5 लाख करोड़ रुपये था जिसकी बदौलत ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी एशिया के दूसरे सबसे बड़े रईस बन गए हैं। अडानी ट्रांसमिशन में प्रमोटर ग्रुप की 74.92 फीसदी, अडानी एंटरप्राइजेज में 74.92 फीसदी, अडानी टोटल गैस में 74.80 फीसदी और अडानी ग्रीन में 56.29 फीसदी हिस्सेदारी है।

About bheldn

Check Also

अगले साल से ATM से पैसे निकालना हो जाएगा महंगा, जानिए प्रति ट्रांजेक्शन कितना लगेगा चार्ज

नई दिल्ली नए साल यानी 1 जनवरी से एटीएम से कैश निकालना महंगा हो जाएगा। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *