J-K पर अब डोभाल की बैठक, अमरनाथ यात्रा समेत मौजूदा हालात पर मंथन

नई दिल्ली,

जम्मू-कश्मीर को लेकर गृह मंत्रालय में आज शुक्रवार को उच्च स्तरीय बैठक हो रही है. विकास से जुड़ी परियोजनाओं पर गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में बैठक हुई, जिसमें J-K के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा शामिल हुए. इसके बाद सुरक्षा हालात को लेकर बड़ी बैठक हो रही है जिसमें NSA अजित डोभाल भी बैठक में मौजूद हैं.

गृह मंत्रालय में आज दूसरी उच्च स्तरीय बैठक में जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा हालात को लेकर बड़ी बैठक हो रही है. बैठक में गृह सचिव अजय भल्ला और NSA अजित डोभाल भी मौजूद हैं.इनके अलावा जम्मू-कश्मीर के DGP दिलबाग सिंह, IB प्रमुख अरविंद कुमार, RAW प्रमुख सामंत गोयल भी बैठक में मौजूद हैं. CRPF के महानिदेशक कुलदीप सिंह भी बैठक में मौजूद हैं.

J-K के पंचायत सदस्यों को भारत भ्रमण कराया जाएः शाह
जम्मू-कश्मीर के विकास से जुड़ी अहम बैठक में गृह मंत्री अमित शाह की ओर से जम्मू-कश्मीर और गृह मंत्रालय के आला अधिकारियों को कई निर्देश दिए गए हैं. गृह मंत्री ने आला अधिकारियों को निर्देश दिया कि जनता का सर्वांगीण विकास नरेंद्र मोदी सरकार की प्राथमिकता है.कश्मीर में 76 परसेंट वैक्सीनेशन हो चुका है जबकि 4 जिलों में 100 फीसदी वैक्सीनेशन हो चुका है. इस सफल प्रयास पर बैठक के दौरान गृह मंत्री शाह ने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल को बधाई दी.

गृह मंत्री ने कहा कि सारे शरणार्थी जो जम्मू-कश्मीर में मौजूद हैं. उनको शरणार्थी योजनाओं के तहत लाभ मिले. साथ ही केंद्र शासित प्रदेश में कृषि आधारित उद्योगों की बड़े पैमाने पर स्थापना हो और इस आधार पर लोगों को रोजगार मिले. यही नहीं रोजगार से जुड़ी योजनाएं जनता तक पहुंचाई जाए.अमित शाह ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि चुने गए पंचायत के सदस्यों को भारत का भ्रमण कराया जाए और उनको प्रॉपर ट्रेनिंग दी जाए.

विकास परियोजनाओं की समीक्षा
सूत्रों का कहना है कि गृह मंत्रालय में उच्च स्तरीय बैठक में जम्मू-कश्मीर में विकास परियोजनाओं की समीक्षा होगी, नए प्रोजेक्ट को लेकर रूपरेखा तय होगी. साथ ही कोरोना महामारी से निपटने को लेकर आगे क्या काम करना है उस पर भी चर्चा होगी.

इस बैठक में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला समेत गृह मंत्रालय के कई आला अधिकारी मौजूद हैं. जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा हालात को लेकर बैठक में चर्चा संभव है.देश के अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की तरह जम्मू-कश्मीर में भी कोरोना वायरस के नए मामलों में कमी आई है, ऐसे में अमरनाथ यात्रा को लेकर लिए जाने वाले फैसले पर हर किसी की नजर है.

About bheldn

Check Also

BJP से पहले कांग्रेस का बिगड़ेगा खेल? मिशन 2024 के लिए ममता का यह है ‘गेम प्लान’

नई दिल्ली 2024 लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार के खिलाफ मुख्य विपक्षी पार्टी के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *