उद्धव सरकार में जुबानी जंग: CM बोले- जूते पड़ेंगे, पटोले का जवाब- ये जनता तय करेगी

मुंबई

महाराष्ट्र में गठबंधन में सरकार चला रही महाविकास अघाड़ी सरकार में खाई चौड़ी होती नजर आ रही। शिवसेना प्रमुख और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस पर इशारों में निशाना साधते हुए कहा कि अगर कोई अकेले चुनाव लड़ने की बात करेगा तो जनता उसे चप्पल से मारेगी। सहयोगी दल के नेता की तरफ से ऐसे बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा है कि अब तो जनता ही यह तय करेगी।

दरअसल शिवसेना ने अपने 55वें स्थापना दिवस पर हिंदुत्व और मराठी अस्मिता की बात की। इस दौरान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस पर इशारों में तीखा हमला किया। उद्धव ने कहा कि अगर कोई अकेले लड़ने की बात करेगा तो लोग जूतों से मारेंगे। हाल ही में महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने अगले सभी चुनाव अकेले लड़ने की बात कही थी। नाना ने कहा, ‘ये तो जनता तय करेगी कि चप्पल की मार किसे पड़ेगी।’ नाना ने हाल ही में सीएम बनने की इच्छा भी जाहिर की थी।

‘तो लोग जूतों से मारेंगे…’
शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, ‘उद्धव जी ने यह बोला है, कोरोना के वक्त में भी राजनीति करेंगे तो लोग चप्पल से मारेंगे- हमको, सबको।’ कांग्रेस के अपने दम पर चुनाव लड़ने के मुद्दे पर ठाकरे ने कहा कि कुछ लोग अपने बल पर चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं। कोरोना काल में हृदयविदारक स्थिति है। लोगों का रोजगार गया, रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है। ऐसे में अगर कोई अकेले लड़ने की बात करेगा, तो लोग जूतों से मारेंगे।

‘हिंदुत्व-मराठी अस्मिता प्राथमिकता’
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेना स्थापना दिवस पर अपने संबोधन में हिंदुत्व और मराठी अस्मिता को पार्टी की पहली प्राथमिकता बताया है। उन्होंने सत्ता में सहयोगी कांग्रेस और विरोधी दल बीजेपी पर निशाना साधा। उद्धव यह भी कहने से नहीं चूके कि वह सत्ता पर बने रहने के लिए कतई लाचार नहीं हैं। ठाकरे ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की जमकर सराहना की। इस मौके पर उन्होंने विशेष रूप से बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तारीफ की।

फडणवीस पर भी साधा निशाना
ठाकरे ने देवेंद्र फडणवीस का नाम लिए बिना उन्होंने कहा, ‘महाविकास अघाडी बनने के बाद कुछ लोगों के पेट में दर्द हो रहा है, लेकिन मैं डॉक्टर नहीं हूं। उन्हें वक्त आने पर राजनीतिक दवा दूंगा। सत्ता न मिलने पर कई लोग छटपटा रहे हैं। हमसे पूछा जा रहा है कि एक साल में क्या किया, तो मैं उनसे कहना चाहूंगा कि वे काम देख लें।’

About bheldn

Check Also

जब सीएम अशोक गहलोत ने कहा-‘किसी को भी सलाहकार बनाऊं, मुझे कौन पूछेगा’

जयपुर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि वह विधायक, सांसद, पत्रकार, साहित्यकार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *