नोएडा में बदमाश बेखौफ, एक्सटेंशन में पत्रकार के साथ गन पॉइंट पर लूट

नोएडा,

दिल्ली से सटे नोएडा में एक निजी चैनल के पत्रकार के साथ गन पॉइंट पर लूट की वारदात हुई है. 19 जून की देर रात 5 नकाबपोश बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया. पत्रकार ने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर पूरे घटना की जानकारी दी. बताया जा रहा है कि लूटपाट की घटना ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना क्षेत्र के नोएडा एक्सटेंशन में हुई है.

अपने पोस्ट में पत्रकार ने लिखा, ’19 जून 2021 की रात करीब 1 बजे, नोएडा एक्सटेंशन के राइज़ पुलिस चौकी के पास से मैं गुज़र रहा था, मेरी सफारी स्टॉर्म कार का म्यूज़िक गड़बड़ कर रहा था तो मैंने कार रोकी और गानों वाली पेन ड्राइव को लगाने लगा, पुलिस चौकी से तकरीबन 250-300 मीटर की दूरी पर मैं रहा होऊंगा.’

पत्रकार ने लिखा, ‘अचानक से 2 मोटर साइकिलों पर सवार 5 लड़के वहां आ धमके. एक बाइक मेरी कार के आगे और दूसरी ड्राइविंग डोर की साइड में लगा दी. सारे लड़के मास्क लगाए हुए थे. एक काफी लंबा लड़का, लंबाई लगभग 6’4″ फीट के ऊपर ही रही होगी, सबसे पहले बाइक से उतरा और मेरी तरफ का दरवाज़ा ज़ोर से खींचा.’

आगे पत्रकार ने लिखा, ‘दरवाज़ा लॉक था इसलिए खुला नहीं. तो उसने खिड़की के शीशे पर ज़ोर से ठोंका और नीचे करने का हुकुम दिया. मैंने नीचे करने में आना-कानी की तो उसने पिस्तौल निकाल ली. मेरे पास उसका आदेश मानने के सिवाय और कोई चारा नहीं था. मैंने दरवाज़ा खोल दिया. उसने गन-प्वाइंट पर मुझे नीचे उतार दिया.’

आगे पत्रकार ने लिखा, ‘पांचों लड़के मेरी गाड़ी में बैठ गए. कार में बैठे लड़के ने मुझे पिस्तौल दिखाते हुए कहा कि चल चेन, अंगूठी, घड़ी और रुपये निकाल. मोबाइल दे अपना. मैंने अपने सारे पैसे (जो मैंने गिने नहीं मगर करीब 5-6 हज़ार रुपये होंगे) उसे दे दिए. मैंने कहा कि सोने से मुझे एलर्ज़ी है. इसीलिए चेन और अंगूठी तो मैं नहीं पहनता हूं.’

आगे पत्रकार ने लिखा, ‘मेरी हालत पस्त हो चुकी थी. पैर कांप रहे थे. मैंने फिर से हाथ जोड़ कर जान बख्शने की विनती की. अपने छोटे से बेटे की दुहाई दी. तब वो कार से नीचे उतरा और मेरी कॉलर पकड़ कर, गुर्राते हुए बोला कि अगर ज्यादा होशियारी दिखाई तो सबकी जान जाएगी. उसने मेरा फोन कार की सीट पर फेंक दिया और चले गए.’फिलहाल इस मामले में अभी तक एफआईआर नहीं दर्ज की गई है, लेकिन पत्रकार का सोशल मीडिया पोस्ट खूब वायरल हो रहा है. इससे नोएडा की कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठ रहा है, जिसे सुधारने के लिए कमिश्नरी प्रणाली भी लागू की गई है

About bheldn

Check Also

ओवैसी की पार्टी के विधायक का राष्ट्रगीत गाने से इनकार, BJP MLA ने कहा- पाकिस्तान जाएं

पटना। अख्तरुल इस्लाम ने कहा कि राष्ट्रगीत गाना जरूरी क्यों है, कोई यह बता दे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *