WTC Final: भारत के पास 32 रनों की बढ़त, पर न्यूजीलैंड की स्थिति मजबूत

साउथम्पटन

भारत और न्यूजीलैंड के बीच जारी आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के खिताबी मुकाबले निर्धारित 5 दिनों के खेल खत्म हो चुके हैं। अब टेस्ट का किंग कौन बनेगा या ड्रॉ होने पर दोनों को संयुक्त विजेता घोषित किया जाएगा। इसका फैसला 23 जून यानी रिजर्व डे को किया जाएगा। मैच का पहला और चौथा दिन पूरी तरह से बारिश से धुल गया था, जिसकी वजह से मैच को छठे दिन भी ले जाना पड़ा है।

साउदी ने किया भारत का खेल खराब
5वें दिन के स्टंप्स तक भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी में 30 ओवरों में 2 विकेट के नुकसान पर 64 रन बना लिए हैं। कप्तान विराट कोहली (8) , जबकि चेतेश्वर पुजारा 12 रन बनाकर नाबाद हैं। दोनों ओपनरों शुभमन गिल (8) और रोहित शमा (30) को टिम साउदी ने LBW आउट कर भारत पर दबाव बढ़ा दिया है। हालांकि, टीम इंडिया के पास 32 रनों की बढ़त है। छठे दिन भारत की कोशिश होगी कि तेजी से रन बनाकर सुरक्षित टारगेट कीवी टीम को दे और फिर उसे ऑलआउट करने की कोशिश करे।

न्यूजीलैंड की पारी का रोमांच
इससे पहले मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा ने शानदार गेंदबाजी की लेकिन कप्तान केन विलियमसन की धैर्यपूर्ण और टिम साउदी की आक्रामक पारी की मदद से भारत पर न्यूजीलैंड पहली पारी में बढ़त बनाने में सफल रहा। न्यूजीलैंड की पहली पारी पांचवें दिन चाय के विश्राम से ठीक पहले 249 रन पर समाप्त हुई। इस तरह से उसने पहली पारी में 32 रन की बढ़त हासिल की। भारत ने अपनी पहली पारी में 217 रन बनाए थे।

शमी, ईशांत और अश्विन की धांसू बोलिंग
शमी (76 रन देकर चार विकेट) ने ‘सीम’ का अच्छा इस्तेमाल करके अपनी फुललेंथ गेंदों से बल्लेबाजों को चकमा दिया जबकि इशांत शर्मा (48 रन देकर तीन) ने भी अच्छी गेंदबाजी की। रविचंद्रन अश्विन (28 रन देकर दो) और रविंद्र जडेजा (20 रन देकर एक) ने भी विकेट लिए लेकिन जसप्रीत बुमराह ने निराश किया। बारिश के कारण पहले सत्र का खेल देर से शुरू हुआ और इसमें 23 ओवर किए गए जिसमें न्यूजीलैंड की टीम ने केवल 34 रन बनाए और इस बीच तीन विकेट गंवाए।

विलियमसन का संघर्ष
दूसरे सत्र में उसने अधिक तेजी दिखायी तथा 27.2 ओवर में 114 रन जोड़कर बाकी बचे पांचों विकेट गंवाए। सलामी बल्लेबाज डेवोन कॉनवे ने तीसरे दिन 54 रन की पारी खेली थी जबकि कप्तान केन विलियमसन ने 177 गेंदों पर 49 रन बनाए लेकिन वह साउदी थी जिन्होंने दो छक्कों की मदद से 30 रन बनाकर न्यूजीलैंड को महत्वपूर्ण बढ़त दिलायी। विलियमसन ने गेंदबाजों को भरपूर सम्मान दिया और पहले सत्र में अपने स्कोर में केवल सात रन जोड़े।

यूं गिरे फिर विकेट
शमी पर उन्होंने चौका लगाकर न्यूजीलैंड को बढ़त दिलायी लेकिन इशांत की बाहर जाती गेंद को थर्डमैन पर खेलने के प्रयास में दूसरी स्लिप में विराट कोहली को कैच देकर एक रन से अर्धशतक से चूक गए। भारत को दिन की पहली सफलता शमी ने दिलायी। उन्होंने रोस टेलर (11) को फुललेंथ गेंद पर ड्राइव करने के लिए ललचाया और शुभमन गिल ने शॉर्ट कवर पर डाइव लगाकर बेहतरीन कैच लिया। इशांत ने इसके बाद भरोसेमंद हेनरी निकोल्स (सात) को दूसरी स्लिप पर कैच देने के लिए मजबूर किया।

अपना आखिरी टेस्ट मैच खेल रहे बी जे वाटलिंग (एक) को शमी ने बोल्ड किया। शमी ने लंच के बाद भी एक छोर से दबाव बनाए रखा। उन्होंने कोलिन डि ग्रैंडहोम (13) को पगबाधा आउट करने के बाद आक्रामक तेवरों के साथ क्रीज पर उतरे काइल जैमीसन (21) को भी पवेलियन भेजा। जैमीसन ने पहली गेंद पर छक्का जड़ने के अगली शॉर्ट पिच गेंद को सीमा रेखा भेजने का प्रयास किया लेकिन जसप्रीत बुमराह ने लांग लेग पर बड़ी खूबसूरती से उसे कैच में बदल दिया।

पुछल्ले बल्लेबाजों में जैमीसन के अलावा साउदी ने उपयोगी रन जोड़े। विलियमसन के आउट होने के बाद उन्होंने इशांत के अगले ओवर में लांग ऑन पर छक्का लगाया। उन्होंने जडेजा की गेंद भी छह रन के लिए भेजी लेकिन इसी स्पिनर ने उन्हें बोल्ड करके कीवी पारी का अंत किया। भारतीय गेंदबाजों में बुमराह (26 ओवरों में 57 रन कोई विकेट नहीं) ने निराश किया जिन्होंने बेहद शॉर्ट पिच और ऑफ स्टंप के बहुत अधिक बाहर गेंदबाजी की जिनके बारे में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा कि इनसे विकेट नहीं लिए जा सकते।

 

About bheldn

Check Also

जोश नहीं होश और जज्बे के साथ भारतीय मूल के इस खिलाड़ी ने भारत से छीनी जीत, रचिन रविंद्र ने किया कमाल

नई दिल्ली कानपुर में भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट मैच ड्रॉ रहा। भारतीय टीम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *