महबूबा मुफ्ती के पाकिस्तान वाले बयान पर विवाद, पैंथर्स पार्टी ने बीजेपी पर बोला हमला

जम्मू

पीएम नरेंद्र मोदी के साथ 24 जून को दिल्ली में कई कश्मीरी नेता मीटिंग करेंगे। जम्मू कश्मीर के सियासी भविष्य को तलाशने के लिए ये कवायद होने जा रही है, लेकिन इससे पहले महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान को बातचीत में शामिल करने का बयान देकर जम्मू में विपक्षी दलों को लामबंद होने का मौका दे दिया है।

पैंथर्स पार्टी ने जम्मू में आरोप लगाया कि बीजेपी पाकिस्तान समर्थित राजनीतिक दलों को मीटिंग में बुला रही है। महबूबा के इस बयान का विरोध करते हुए पार्टी ने कहा कि महबूबा ने जब कभी ऐसे बयान दिए हैं तब इसका खामियाजा जम्मू कश्मीर में काम कर रहे सुरक्षाबलों और आम नागरिक उठाना पड़ा है। कश्मीर में आतंकियों के हाथों मारे गए एक इंस्पेक्टर की शहादत पर अफसोस करते हुए पैंथर्स पार्टी ने कहा कि महबूबा के बयान के बाद एक और बहादुर जवान खोना पड़ा है।

पैंथर्स पार्टी ने कहा कि जम्मू की जनता ने शुरू से ही तिरंगा उठाया है लेकिन केंद्र जम्मू के देशभक्त लोगों की आवाज सुनने को तैयार नहीं है। केंद्र बैठक में कश्मीर के ऐसे राजनीतिक दलों को बुला रही है जिन्होंने शुरू से ही पाकिस्तान की भाषा बोली है जबकि जम्मू के राजनीतिक दलों को इस बैठक में नजरअंदाज किया गया है।

सूत्रों का कहना है कि पीएम मोदी के साथ कश्मीरी नेताओं की बैठक से पहले महबूबा मुफ्ती के बयान को लेकर बड़ा गतिरोध खड़ा होना तय है, क्योंकि बैठक में कांग्रेस, बीजेपी पार्टी समेत विभिन्न राजनीतिक दल मीटिंग में शामिल हो रहे हैं। मीटिंग से पहले ही महबूबा मुफ्ती ने जो तेवर दिखाए हैं उससे राजनीतिक गलियारों में बेचैनी होनी स्वाभाविक है।

जानकारों का कहना है कि महबूबा का ये कहना कि कश्मीर समस्या के समाधान के लिए पाकिस्तान को भी बातचीत में शामिल किया जाना चाहिए, किसी भी लिहाज से ठीक नहीं है। महबूबा मुफ्ती के एक बयान ने जम्मू में विपक्ष को एकजुट होने का मौका दिया है और विपक्ष इसके जरिए केंद्र पर निशाना साध रहा है।

About bheldn

Check Also

जलाभिषेक के ऐलान के बाद पूरे मथुरा में धारा 144 लागू, हिन्दू महासभा के नेता नजरबंद

मथुरा, कृष्ण की नगरी मथुरा में धारा 144 लगाए जाने के बाद हिन्दू महासभा के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *