जियो का ‘मेड इन इंडिया’ 5G देगा 1GBPS से ज्यादा स्पीड! चल रही है टेस्टिंग

रिलायंस जियो दिल्ली, मुंबई समेत कई शहरों में 5जी तकनीक का परीक्षण कर रही है। परीक्षणों के दौरान जियो ने सफलतापूर्वक 1 GBPS से अधिक की स्पीड पाई है। यह जानकारी रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने 44वीं सालाना आम बैठक के दौरान दी। उन्होंने जियो के ‘मेड इन इंडिया’ सॉल्युशन को विश्व स्तर का बताया।

​जियो ही करेगी देश में 5जी की शुरुआत
रिलायंस के शेयरधारकों को संबोधित करते हुए अंबानी ने भरोसा जताया कि देश में 5जी की शुरुआत रिलायंस जियो ही करेगी। रिलायंस जियो ने अत्याधुनिक स्टैंडअलोन 5G तकनीक को विकसित करने में जबरदस्त बढ़त हासिल की है, जो वायरलेस ब्रॉडबैंड के लिए बड़ी छलांग है। मुकेश अंबानी ने बताया कि 5जी परीक्षणों के दौरान जियो ने सफलतापूर्वक 1 GBPS से अधिक की स्पीड पाई है।

​टेस्टिंग के लिए हाल ही में जारी हुए थे स्पेक्ट्रम
हाल ही में 5G परीक्षण शुरू करने के लिए आवश्यक स्पेक्ट्रम कंपनियों को जारी किया गया था। जियो दिल्ली, मुंबई समेत कई शहरों में 5जी तकनीक का परीक्षण कर रही है। मुकेश अंबानी ने बताया कि पूरे देश में फैले डेटा सेंटर्स पर 5जी स्टैंडअलोन नेटवर्क को इंस्टॉल कर दिया गया है और रिलायंस जियो के मजबूत नेटवर्क आर्किटेक्चर की वजह से 4जी से 5जी में आसानी से अपग्रेडेशन किया जा सकता है।

​एंड-टू-एंड 5G इकोसिस्टम
आत्मनिर्भर भारत का जिक्र करते हुए रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि “एंड-टू-एंड 5G इकोसिस्टम विकसित करने के लिए हम अपने अग्रणी वैश्विक भागीदारों के साथ 5G उपकरणों की पूरी श्रृंखला विकसित कर रहे हैं। हेल्थकेयर, शिक्षा, मनोरंजन, रिटेल और अर्थव्यवस्था के लिए जियो बेहतरीन ऐप्लीकेशन विकसित करेगी। इसका उदाहरण है अत्याधुनिक 5जी कनेक्टेड एम्बुलेंस जो सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल के साथ मिलकर रिलायंस जियो विकसित कर रही है।

​भारत में सफल रहने के बाद विदेश में निर्यात
जियो भारत को 5G विकास और निर्यात का एक वैश्विक केंद्र (Global Hub) बनाने की कोशिश करेगी। एक बार जब जियो का 5G सॉल्युशन भारत के स्तर पर सफल हो जाता है, तो उसे दुनिया भर के अन्य देशों में निर्यात की संभावनाएं बनेंगी। मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने बताया कि जियो ने 5G, AI/ML और ब्लॉकचेन जैसी कई प्रौद्योगिकियों में विशेषज्ञता हासिल की है।

About bheldn

Check Also

चुनाव जीतने को फ्री-फ्री के ऑफर्स और निकल जाती है इकॉनमी की चीख, ऐसे नेताओं का क्या करें?

नई दिल्ली भारत में जब भी चुनाव जीतने की बात आती है, राजनीतिक दल इकनोमी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *