कश्मीर छोड़ो, आतंकवाद पर ध्यान दो…बड़बोले पाक को भारत की लताड़

नई दिल्ली

भारत ने गुरुवार को कश्मीर मुद्दे और अफगानिस्तान में भारत की भूमिका के बारे में पाकिस्तानी नेतृत्व के हालिया बयानों को खारिज कर दिया है। भारत ने आगे कहा कि इस्लामाबाद को आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करके सामान्य द्विपक्षीय संबंधों के अनुकूल माहौल बनाने पर ध्यान देना चाहिए।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की टिप्पणियों का जवाब देते हुए कहा कि वह पाकिस्तान के साथ सामान्य संबंध रखना चाहता है और यह उस पर निर्भर करता है कि वह अपने अधीन किसी भी क्षेत्र का सीमापार आतंकवाद के लिए इस्तेमाल नहीं होने देने के लिए विश्वसनीय, पुष्टि करने योग्य और अपरिवर्तनीय कदम उठाने सहित उपयुक्त माहौल बनाए।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, पाकिस्तान को अपने अधीन किसी भी क्षेत्र का भारत के खिलाफ सीमापार आतंकवाद के लिए इस्तेमाल नहीं करने देने के लिए विश्वसनीय, पुष्टि करने योग्य और अपरिवर्तनीय कदम उठाने सहित उपयुक्त माहौल बनाना चाहिए। यह पूछे जाने पर कि ऐसी खबरें आईं जिनमें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कश्मीर मुद्दा सुलझने पर परमाणु प्रतिरोध की जरूरत नहीं होने की बात कही है, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि जहां तक जम्मू कश्मीर का सवाल है, यह भारत का आंतरिक मामला है।

अफगानिस्तान में भारत की भूमिका पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की टिप्पणी के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमने मीडिया में ऐसी खबरें देखी हैं। हमारा मानना है कि अफगानिस्तान के लोगों को अपने सहयोगी और उसके आकार के बारे में निर्णय करना है।

उन्होंने कहा कि भारत ने अफगानिस्तान में बिजली, बांध, स्कूल, सामुदायिक परियोजनाएं आदि बनाने का काम किया है। बागची ने कहा, दुनिया जानती है कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान में क्या लाया है। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भारत, अफगानिस्तान शांति प्रक्रिया का समर्थन करता है और क्षेत्रीय देशों सहित विभिन्न पक्षकारों के सम्पर्क में है।

About bheldn

Check Also

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबीयत बिगड़ी, दिल्ली AIIMS में भर्ती

नई दिल्ली/पटना राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की तबीयत शुक्रवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *