अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर चौंकाने वाला सर्वे आया सामने

वॉशिंगटन,

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने फैसलों और बयान को लेकर पूरे कार्यकाल में विवादों में रहे. शरणार्थियों का मसला हो या ईरान से परमाणु समझौता को रद्द करना अथवा कोरोना महामारी से निपटने का तौर-तरीका, हर मोर्चे पर ट्रंप को आलोचना झेलनी पड़ी. अंतिम वक्त में भी जब उनका कार्यकाल पूरा हुआ उस दौरान उनके समर्थक राष्ट्रपति चुनाव में उनकी हार स्वीकार करने को तैयार नहीं थे. समर्थकों ने अमेरिकी संसद कैपिटल हिल में जमकर बवाल काटा.

कैपिटल हिल में ट्रंप समर्थकों के हंगामे को लोकतंत्र पर हमले के तौर पर देखा गया. रिपब्लिकन समर्थकों के संसद पर धावा बोलने की दुनियाभर में निंदा हुई. राष्ट्रपति रहते हुए ट्रंप अपने बड़बोलेपन के लिए भी सुर्खियों में रहे. हालिया सर्वे में प्रदर्शन के लिहाज से पूर्व राष्ट्रपतियों में ट्रंप 41वें पायदान पर रहे. यानी कामकाज के नजरिये से वह अमेरिका के सबसे खराब राष्ट्रपति रहे हैं. यह सर्वेक्षण 100 से अधिक इतिहासकारों ने मिलकर किया है.

सी-स्पैन (C-SPAN) की ऐतिहासिक राष्ट्रपति रैंकिंग के चौथे संस्करण का रिजल्ट गत बुधवार को प्रकाशित किया गया. 142 इतिहासकारों और पेशेवर पर्यवेक्षकों ने अमेरिका के 44 पूर्व राष्ट्रपतियों को लेकर यह सर्वे किया जिसमें यह बात निकल कर सामने आई.

डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडेन से 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में मिली हार के बाद ट्रंप पहली बार इस सूची में शामिल हुए हैं. कोरोना वायरस संक्रमण को गलत तरीके से संभालने और दो बार महाभियोग का सामने करने वाले अमेरिकी इतिहास में एकमात्र राष्ट्रपति बनने वाले ट्रंप 41वें स्थान पर रहे. हालांकि 44 पूर्व राष्ट्रपियों में ट्रंप, फ्रैंकलिन पियर्स, एंड्रयू जॉनसन और जेम्स बुकानन से आगे रहे.

इस सर्वेक्षण में 10 बिन्दुओं पर पूर्व राष्ट्रपतियों की रैंकिंग की गई. इसमें लोगों को भरोसे में लेना, संकट की स्थिति को संभालने, आर्थिक प्रबंधन, नैतिक अधिकार, प्रशासनिक कौशल, सांसदों के साथ संबंध, एजेंडा, न्याय, प्रदर्शन जैसे प्वाइंट शामिल किए गए.डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के पहले राष्ट्रपति हैं जिन्हें दो बार महाभियोग का सामना करना पड़ा. लोगों को अपने विचारों से सहमत करने के मामले में उन्हें 32वीं रैंक मिली. आर्थिक मोर्चा संभालने के मामले में वह 34वें, नैतिकता और प्रशासनिक कुशलता के मामले में वह सबसे निचले पायदन पर रहे.

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा इस मामले में 10वें स्थान पर रहे. ओबामा को मात देकर ही ट्रंप ने राष्ट्रपित पद पर जीत हासिल की थी. ओबामा पिछली बार 2017 में किए गए सर्वेक्षण से दो स्थान ऊपर हैं.रिपब्लिकन राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन, जिन्होंने गृहयुद्ध जीता और हत्या से पहले दास प्रथा को खत्म किया, एक बार फिर टॉप पर रहे.दूसरे स्थान पर जॉर्ज वॉशिंगटन हैं, जिन्होंने अमेरिकी स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजों पर जीत हासिल की. उस दौरान उन्होंने महाद्वीपीय सेना का नेतृत्व किया. वह अमेरिका के पहले राष्ट्रपति थे.

फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट तीसरे स्थान पर हैं. उनके “न्यू डील” कार्यक्रम को 1930 के दशक की महामंदी के बीच खस्ताहाल अमेरिकी अर्थव्यवस्था को फिर से खड़ा करने का श्रेय दिया जाता है.थिओडोर रूजवेल्ट चौथे स्थान पर हैं. वह 1901 से 1909 तक अमेरिका के राष्ट्रपति पद पर रहे. 1901 से 1909 तक व्हाइट हाउस में थे और राष्ट्रपति की शक्तियों में बड़ा विस्तार किया.सर्वे में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ड्वाइट आइजनहावर शीर्ष पांच में हैं. वह दूसरे विश्व युद्ध के दौरान पश्चिमी यूरोप में मित्र देशों की सेनाओं के सर्वोच्च कमांडर थे और 1953 से 1961 तक राष्ट्रपति रहे.

About bheldn

Check Also

कंगाल पाकिस्तान पर महंगाई की मार, बेबस इमरान बोले- नींद नहीं आती है

इस्लामाबाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने ये मान लिया है कि उनके मुल्क में लोगों को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *