इधर, पीएम कर रहे थे फेरबदल की तैयारी, उधर, नड्डा फोन के जरिए गिरा रहे थे गाज,

नई दिल्ली

मोदी सरकार में वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री रहे रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, डॉ हर्षवर्धन, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’- उन 11 मंत्रियों में शामिल थे, जिन्होंने कैबिनेट फेरबदल से पहले इस्तीफा दे दिया था। शीर्ष सरकारी सूत्रों के मुताबिक, इन वरिष्ठ मंत्रियों के इस्तीफे के लिए एक फोन कॉल किया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब अपने दूसरे कार्यकाल के पहले कैबिनेट फेरबदल में व्यस्त थे उस समय भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा उन मंत्रियों को फोन कर रहे थे जिन्होंने अपने पद से इस्तीफा दिया।

जैसे ही मंत्रिमंडल विस्तार का समय नजदीक आया, नड्डा ने 11 केंद्रीय मंत्रियों को फोन किया और उनसे इस्तीफा देने को कहा। सूत्रों ने ये जानकारी दी। जिसके बाद राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, हर्षवर्धन, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, सदानंद गौड़ा के इस्तीफे स्वीकार किए। यही नहीं संतोष गंगवार, संजय धोत्रे, देबाश्री चौधरी, रतन लाल कटारिया, प्रताप चंद्र सारंगी और बाबुल सुप्रियो ने भी इस्तीफे दिए। सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने पहले ही कर्नाटक राज्यपाल बनाए जाने के बाद इस्तीफा दे दिया था।

कुल मिलाकर, छह कैबिनेट मंत्रियों, एक राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और पांच राज्य मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। कानून और आईटी मंत्री प्रसाद का इस्तीफा माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर और सरकार के बीच नए आईटी नियमों के पालन सहित विभिन्न मुद्दों पर विवाद के बीच आया।

प्रसाद और जावड़ेकर द्वारा फेसबुक और ट्विटर, ओटीटी प्लेटफॉर्म के साथ-साथ डिजिटल मीडिया,सोशल मीडिया फर्मों के लिए व्यापक नियमों की घोषणा के बाद इस्तीफे आए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, जिनकी कोविड​​​​-19 संकट से निपटने के लिए विपक्षी दलों ने आलोचना की थी, ने भी केंद्रीय मंत्रिपरिषद से इस्तीफा दे दिया।

मालूम हो कि नए मंत्रिमंडल में 36 नए चेहरों में से आठ वकील हैं, चार डॉक्टर हैं, दो पूर्व आईएएस अधिकारी और चार एमबीए डिग्री धारक हैं, इसके अलावा कई इंजीनियर हैं। इसे विधानसभा चुनावों और 2024 के लोकसभा चुनावों के मद्देनजर देखा जा रहा है। 15 कैबिनेट मंत्रियों के अलावा, 28 राज्य मंत्रियों, जिनमें नए चेहरे शामिल थे और जिन्हें पदोन्नत किया गया था, को शपथ दिलाई गई। राष्ट्रपति भवन के दरबार हॉल में आयोजित एक समारोह में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कैबिनेट में पदोन्नत सात मंत्रियों सहित 43 मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई ।

About bheldn

Check Also

राष्ट्रपति कोविंद का राष्ट्र के नाम संबोधन, कहा- कोरोना से लड़ाई चुनौती

नई दिल्ली, 73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *