राजस्थान: ‘तीन महीने बाद राजे विल टेक ओवर’, वसुंधरा गुट के नेता का ऑडियो वायरल

जयपुर

राजस्थान की राजनीति में ऑडियो की बड़ी अहम भूमिका रही है, पिछले दिनों कांग्रेस के अंदरुनी खींचतान में कुछ ऑडियो टेप ने सियासी तापमान को बढ़ा दिया था। इस बार बीजेपी नेता का एक ऑडियो सामने आया है, जिसमें बीजेपी के अंदरखाने में चल रही खींचतान को सतह पर ला दिया है। यह ऑडियो पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समर्थक कहे जाने वाले रोहिताश शर्मा का बताया जा रहा है, जहां वह एक भाजपा कार्यकर्ता के साथ बात कर रहे हैं और गाली देते हुए नजर आ रहे हैं। इस ऑडियो में वह एक अन्य कार्यकर्ता को गाली देते हुए कह रहे हैं कि वसुंधरा राजे ही नेता बनेंगी। ये मूर्ख क्या राज चलाएंगे।

एक अन्य ऑडियो में वह कथित तौर पर दावा करते हुए सुनाई दे रहे हैं कि आगामी तीन महीनों में वसुंधरा राजे टेक ओवर कर लेंगी। ऑडियो के अनुसार, अगले तीन महीनों में वसुंधरा राजे राजस्थान में भाजपा की सर्वेसर्वा होंगी। इसकी पूरी तैयारी हो चुकी है। हालांकि रोहिताश शर्मा इस ऑडियो को अपना बताने से इनकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि उन्होंने इस तरह की कोई भी बात नहीं कही है। बकौल रोहिताश, मेरे और थानागाजी इलाके के एक कार्यकर्ता के बीच बातचीत हुई थी। उसे वसुंधरा जन रसोई में काम करने के लिए कहा था, सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता ने सतीश पुनिया के बारे में चर्चा की तो मैंने कह दिया कि आप पुनिया जिंदाबाद बोलिए लेकिन मैं किसी को गाली नहीं देना चाहता हूं।

कथित ऑडियो में वह एक जिलाध्यक्ष का नाम लेते हुए अपशब्दों के साथ कह रहे हैं कि यह जिला अध्यक्ष मोटरसाइकिल भी छुड़ा सकते हैं क्या। ये कैसा संगठन हुआ जिसमें मजबूत लोगों को नहीं रखेंगे। यह क्या बात हुई, लीडर को मारकर कोई जिंदा रह सकता है क्या। आप लीडर को मार रहे हैं, वसुंधरा को हटाकर ये चुनाव कर सकते हैं क्या।

बयानबाजी पर सख्त भाजपा: भारतीय जनता पार्टी में बयानबाजी करने वाले नेताओं की नकेल कसने के लिए बयानवीर नेताओं पर कार्रवाई शुरू हो गई है। रोहिताश शर्मा को नोटिस जारी करके 15 दिनों में स्पष्टीकरण मांगा गया है। यह नोटिस प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा के माध्यम से दिया गया है, हालांकि शर्मा के तेवर नोटिस के बाद भी बरकरार है।

रोहिताश शर्मा को उनके एक जून के बयान को लेकर नोटिस दिया गया है। नोटिस में रोहिताश शर्मा के उस बयान का जिक्र किया गया है, जहां वह कहते सुनाई दे रहे हैं कि राजस्थान बीजेपी के दफ्तरों से पार्टी चलाई जा रही है, जो हाल कांग्रेस का केंद्र में हो गया है, राजस्थान में विपक्ष का ऐसा ही हाल हो गया है। इस नोटिस में रोहिताश शर्मा से केंद्र के खिलाफ बयानबाजी पर सफाई मांगी गई है।बताते चलें कि राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी में खींचतान की खबरें सामने आ रही हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि पार्टी वसुंधरा बनाम सतीश पुनिया खेमे में बंट गई है.

About bheldn

Check Also

‘साबित हो गया! चौकीदार ही जासूस है’, Pegasus को लेकर खुलासे पर कांग्रेस हमलावर

नई दिल्ली, जासूसी सॉफ्टवेयर पेगासस डील पर न्यूयॉर्क टाइम्स की नई रिपोर्ट ने कड़ाके की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *