कोरोना की तीसरी लहर में नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी! सरकार उठा रही यह कदम

नई दिल्ली

कोरोना की तीसरी लहर से पहले सरकार ने ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ाने के लिए बड़ा प्लान बनाया है। सरकार ऑक्सीजन का उत्पादन और सप्लाई से जुड़ी बुनियादी सुविधाओं को बेहतर बना रही है। कोरोना की दूसरी लहर में देश में लोगों को ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ा था। ऑक्सीजन नहीं मिलने से कई लोगों की जान चली गई थी।

सरकार ऑक्सीजन के उत्पादन के लिए दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों में प्लांट (plant) लगा रही है। इसके अलावा ऑक्सीजन का बफर स्टॉक (buffer stock) भी बनाने का प्लान है। इससे जरूरत पड़ने पर ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति हो सकेगी। सरकार पहले ही 1,200 से ज्यादा प्रेशर स्विंग एडसॉर्प्शन ऑक्सीजन जेनरेटर्स (PSA) लगाने का एलान कर चुकी है।

पीएसए व्यवस्था की निगरानी के लिए सिस्टम बनाया जा रहा है। सरकार ऑक्सीजन की स्टोरेज सुविधा (storage facility) पर भी फोकस बढ़ाना चाहती है। इससे फिलिंग कैपेसेटी बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। राज्यों में स्टोरेज हब बनाने के बारे में राज्य सरकारों से चर्चा चल रही है। इससे लोकल स्तर पर भी ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी।

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान झारखंड और उड़ीसा जैसे ऑक्सीजन की ज्यादा उपलब्धता (surplus availability) वाले राज्यों से दिल्ली, कर्नाटक और महाराष्ट्र को ऑक्सीजन की सप्लाई करनी पड़ी थी। दिल्ली में प्रोडक्शन फैसिलिटी नहीं होने से ऑक्सीजन को पहुंचाने के लिए टैंकर की व्यवस्था करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।

About bheldn

Check Also

बढ़ सकते हैं पेट्रोल के भाव, कच्चे तेल के दाम में लगी आग, 7 साल में सबसे ऊपर

नई दिल्ली, कई महीनों के बाद मामूली तौर पर नीचे आए पेट्रोल के भाव फिर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *