नए रेलमंत्री ने इंजीनियर से क्यों कहा-सर नहीं, आप मुझे बॉस बोलोगे!

नई दिल्ली,

पिछले दिनों नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले फेरबदल में रेल मंत्री भी बदल दिए गए. अश्विनी वैष्णव को देश का नया रेल मंत्री बनाया गया है. मंत्रालय में अपना पदभार संभालते ही उन्होंने सबसे पहले ऑफिस टाइम बदल दिया. इस दौरान रेल मंत्री की एक इंजीनियर के साथ मुलाकात चर्चा का विषय बन गई है.

नए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शुक्रवार को रेलवे में सिग्नल विभाग के एक इंजीनियर से मुलाकात की जिसका वीडियो वायरल हो गया है. विभाग के इंजीनियरों में से एक इंजीनियर ने बताया कि वह उसी कॉलेज से हैं, जिसमें रेल मंत्री पढ़े थे. इस पर रेल मंत्री ने कहा- ‘आओ गले लगते हैं.’ रेल मंत्री वैष्णव ने यह भी कहा, ‘हमारे कॉलेज में जूनियर सीनियर को सर नहीं बॉस बोलता है. तो आप मुझे बॉस बोलेंगे…?’

पूर्व नौकरशाह अश्विनी वैष्णव ने राजस्थान के जोधपुर के M.B.M से इंजीनियरिंग कॉलेज (मुगनीराम बांगुर मेमोरियल इंजीनियरिंग कॉलेज, एमबीएम) से पढ़ाई की है. इस दौरान उन्होंने स्टाफ से यह भी कहा कि घर जैसा काम करेंगे. मजा आ जाए, ऐसा काम करेंगे.

इससे पहले अपना पदभार संभालते ही रेल मंत्री ने सबसे पहले ऑफिस टाइम में बदलाव कर दिया. नए आदेश के अनुसार, अब रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) के अधिकारियों और कर्मचारियों को दो शिफ्टों में काम करना होगा. रेल मंत्री के दफ्तर की ओर से जारी आदेश के अनुसार, पहली शिफ्ट सुबह 7 बजे से शुरू होकर शाम 4 बजे खत्म होगी. तो वहीं, दूसरी शिफ्ट की शुरुआत दोपहर 3 बजे से शुरू होगी और रात में 12 बजे तक चलेगी.

देश के सबसे अहम मंत्रालयों में से एक रेल मंत्रालय की जिम्मेदारी अश्विनी वैष्णव को दी गई है. साथ ही उन्हें आईटी और संचार मंत्रालय का कार्यभार भी सौंपा गया है. इससे पहले तक रेल मंत्रालय का जिम्मा पीयूष गोयल के पास था. अब उन्हें कपड़ा मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है. उनसे पहले यह मंत्रालय स्मृति ईरानी के पास था.Live TV

About bheldn

Check Also

राष्ट्रपति कोविंद का राष्ट्र के नाम संबोधन, कहा- कोरोना से लड़ाई चुनौती

नई दिल्ली, 73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *