विंबलडन पुरुष फाइनल में रचा जाएगा इतिहास, इस महिला अंपायर के नाम होगा खास रेकॉर्ड

विंबलडन

विंबलडन के इतिहास में पहली बार पुरुष एकल के फाइनल मुकाबले में एक महिला चेयर अंपायरिंग की भूमिका निभायेगी। विंबलडन की शुरुआत 1877 में हुई थी। क्रोएशिया की 43 साल की मारिया सिसाक रविवार को होने वाले इस मुकाबले में अंपायरिंग करेंगी जिसमें नोवाक जोकोविच का सामना ऑल इंग्लैंड क्लब में माटियो बेरेटिनी से होगा।

क्लब ने शनिवार को सिसाक के चयन की घोषणा की। वह ‘गोल्ड बैच’ की चेयर अंपायर हैं और 2012 से डब्ल्यूटीए एलीट टीम की सदस्य हैं। वह 2014 विंबलडन महिला फाइनल के लिए भी चेयर अंपायर थीं।फिर तीन साल बाद उन्होंने महिलाओं के युगल फाइनल में भी यही जिम्मेदारी निभायी थी। उन्होंने 2016 रियो ओलिंपिक में महिलाओं के एकल स्वर्ण पदक मैच में अंपायरिंग की थी।

About bheldn

Check Also

कुलदीप के लिए मुश्किल डगर, उस पर भरोसा बनाए रखे टीम इंडिया: हरभजन सिंह

नई दिल्ली पिछले साल सितंबर में संयुक्त अरब अमीरात में कोलकाता नाइट राइडर्स के अभ्यास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *