Twitter के ढीले पड़े तेवर, जारी की पहली कम्‍प्‍लायंस रिपोर्ट, शिकायत अधिकारी भी नियुक्‍त

नई दिल्ली

नए आईटी नियमों को लेकर ट्विटर के तेवर नरम पड़ते दिख रही है। उसने अपनी पहली अनुपालन रिपोर्ट जारी की है। माइक्रोब्‍लॉगिंग साइट ने इसमें बताया है कि उसे 26 मई से 25 जून के दौरान 94 शिकायतें मिलीं। इस दौरान उसने 133 यूआरएल पर ‘कार्रवाई’ की। नए आईटी नियमों के तहत अनुपालन रिपोर्ट जारी करना अनिवार्य है। इन नियमों को लेकर सरकार के साथ विवाद के बीच अमेरिकी कंपनी ने विनय प्रकाश को भारत में अपना निवासी शिकायत अधिकारी नियुक्त किया है।

माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर को 26 मई से 25 जून के दौरान 94 शिकायतें मिलीं। उसने इस दौरान 133 यूआरएल पर ‘कार्रवाई’ की। ट्विटर की पहली अनुपालन रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। नए आईटी नियमों के तहत ट्विटर ने अपनी पहली कम्‍प्‍लायंस रिपोर्ट प्रकाशित की है।

इस रिपोर्ट का शीर्षक ‘इंडिया ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट : यूजर ग्रीवांस एंड प्रोएक्टिव मॉनिटरिंग जुलाई, 2021’ है। ट्विटर ने बताया कि उसे 94 शिकायतें मिली हैं। 26 मई, 2021 से 25 जून, 2021 के दौरान उसने 133 यूआरएल पर ‘एक्‍शन’ लिया है। इनमें व्यक्तिगत यूजरों की ओर से अदालती आदेश के साथ शिकायतें शामिल हैं।

ट्विटर ने कहा कि शिकायत अधिकारी-भारतीय चैनल के जरिये मिली शिकायतों में 20 मानहानि, छह शोषण/दुर्व्यवहार और चार संवेदनशील एडल्ट सामग्री से संबंधित थीं। इसके अलावा तीन शिकायतें निजता के उल्लंघन और एक शिकायत बौद्धिक संपदा के उल्लंघन से संबंधित भी थीं।

इसके अलावा कंपनी ने ट्विटर अकाउंट को निलंबित करने की अपील करने वाली 56 शिकायतों का भी निपटान किया। उन पर उचित प्रतिक्रिया भेजी गई। ट्विटर ने सात अकाउंट को निलंबित करने की शिकायतों को विशेष स्थिति के अनुरूप खारिज किया। हालांकि अन्य अकाउंट निलंबित किए गए।

एक अलग श्रेणी- ‘जागरूक डेटाडेटा-निगरानी ’ के तहत ट्विटर ने 18,385 अकाउंट को निलंबित किया। इन खातों को बाल शोषण, अश्लीलता और इसी तरह की अन्य सामग्री के लिए निलंबित किया गया। आतंकवाद को प्रोत्साहन देने के आरोप में 4,179 अकाउंट बंद किए गए।

चल रहा है सरकार के साथ विवाद
ट्विटर के भारत में करीब 1.75 करोड़ यूजर हैं। नए सोशल मीडिया नियमों को लेकर ट्विटर का भारत सरकार के साथ विवाद चल रहा है। ट्विटर ने भारत में मध्यवर्ती के रूप में अपना कानूनी कवच गंवा दिया है। अब वह यूजरों की ओर से किसी तरह की गैर-कानूनी सामग्री डालने के लिए जिम्मेदार होगी।

ट्विटर ने कहा कि आगे चलकर वह मासिक आधर पर रिपोर्ट प्रकाशित करेगी। इसमें समय के साथ सुधार होगा। गूगल, फेसबुक और कू जैसी कंपनियां पहली ही आईटी नियमों के तहत अपनी पहली अनुपालन रिपोर्ट प्रकाशित कर चुकी हैं। फेसबुक ने कहा है कि उसने 15 मई से 15 जून के दौरान 10 उल्लंघन की श्रेणियों में तीन करोड़ सामग्रियों पर ‘कार्रवाई’ की। वहीं इस दौरान इंस्टाग्राम ने नौ श्रेणियों में 20 लाख सामग्री के टुकड़ों पर कार्रवाई की।

शिकायत अधिकारी किया नियुक्‍त
ट्विटर ने विनय प्रकाश को भारत के लिए निवासी शिकायत अधिकारी नियुक्त किया है। कंपनी की वेबसाइट पर यह सूचना डाली गई है। नए आईटी नियमों का अनुपालन करने में विफल रहने की वजह से ट्विटर लगातार विवादों के घेरे में थी। इन नियमों के तहत 50 लाख से अधिक यूजर्स वाली सोशल मीडिया कंपनियों को तीन महत्वपूर्ण नियुक्तियां करने की जरूरत है। इनमें मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल अधिकारी और शिकायत अधिकारी की नियुक्ति शामिल है। ये तीन अधिकारी भारत के निवासी होने चाहिए।

About bheldn

Check Also

जैगुआर से राफेल तक… Republic Day पर दिखी ‘भारत की शक्ति’, कॉकपिट से ली गईं तस्वीरें

नई दिल्ली, देश आज 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. गणतंत्र दिवस के मौके पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *