प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी से पूछा- बताएं कि ये लूट बंद कब होगी,…

नई दिल्ली

पेट्रोल – डीजल व खाद्य पदार्थों के बढ़ते मूल्य पर कांग्रेस मोदी सरकार पर निशाना साध रही है। राहुल गांधी के साथ ही कांग्रेस के कई बड़े नेता नरेंद्र मोदी पर हमला बोल रहे हैं। महंगाई के मुद्दे पर ही प्रियंका गांधी वाड्रा ने सरकार से कई सीधे सवाल पूछते हुए ट्वीट किया। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से सवाल पूछते हुए लिखा कि बताएं यह लूट कब बंद होगी। उनके इस ट्वीट पर फिल्मेकर ने जवाब देते हुए लिखा कि वह तो 2014 से ही बंद है।

दरअसल कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए मंगलवार को एक ट्वीट किया। उन्होंने सरकार से सवाल पूछते हुए लिखा कि, ‘महंगाई पर सरकार से एक सीधा सवाल – आप इधर-उधर की बात न करें, ये बताएं कि ये लूट बंद कब होगी।’ आगे उन्होंने लिखा कि रसोई का बजट, खेत की लागत, ढुलाई का खर्च बढ़ने से समाज का हर वर्ग परेशान है और जनता को राहत मिलने तक कांग्रेस पार्टी का सड़कों पर संघर्ष जारी रहेगा।’

उनके इसी ट्वीट पर फिल्मेकर अशोक पंडित में निशाना साधते हुए लिखा कि, ‘मैडम जहां तक लूट का सवाल है वो तो 2014 को ही ख़त्म हो गयी थी क्योकि सारे लूटेरों का राज पाठ देश ने छीन लिया था। अमेठी और रायबरेली की जनता ने भी आपको आपकी जगह बता दी ! लूट पाट के बारे में अपने पति से भी कुछ सवाल पूछ लीजिए।’

अशोक पंडित के ट्विटर पर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कोई उन्हें गलतफहमी में ना रहने की सलाह दे रहा है तो कोई यूजर उनकी बातों का समर्थन कर रहा है। एक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि आप गलतफहमी में न रहे। जब तक कि सरकार में है तब तक सब कुछ दबा रहेगा। वैसे एक बात और यूपीए ने इकोनॉमिक करप्शन किया था यह सरकार मेंटल करप्शन कर रही है।

@Himansh98966780 टि्वटर हैंडल से अशोक पंडित के ट्वीट का रिप्लाई करते हुए लिखा गया कि, ‘सबसे पुरानी पार्टी के सबसे बड़े चोर पूछ रहे हैं की लूट कब बंद प्रियंका जी आपकी जानकारी के बता दें यह पेट्रोल का कर्ज भी भारत सरकार पर छोड़ कर गए हो।’ एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि गजब बेज्जती।

About bheldn

Check Also

राष्ट्रपति कोविंद का राष्ट्र के नाम संबोधन, कहा- कोरोना से लड़ाई चुनौती

नई दिल्ली, 73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *