बांग्लादेश में जन्म? मोदी सरकार में मंत्री निशीथ प्रमाणिक की राष्ट्रीयता पर छिड़ी बहस

कोलकाता

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद रिपुन बोरा ने नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किए गए गृह राज्यमंत्री निशीथ प्रमाणिक की नागरिकता पर सवाल उठाया है। इस सवाल ने पश्चिम बंगाल की राजनीति में तीखी बहस छेड़ दी है। हाल ही में मोदी मंत्रिपरिषद के विस्तार में उन्हें गृह राज्यमंत्री बनाया गया था।

सांसद रिपुन बोरा का यह दावा
बोरा ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे एक पत्र में कहा, ‘मैं यह पत्र आपके संज्ञान में हाल ही में नियुक्त केंद्रीय राज्यमंत्री निशीथ प्रमाणिक की नागरिकता और जन्म स्थान के संबंध में एक बहुत ही गंभीर और संवेदनशील मामला लाने के लिए लिख रहा हूं।’ सांसद ने लिखा, ‘एक समाचार चैनल में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार निशीथ प्रमाणिक एक बांग्लादेशी नागरिक हैं। उनका जन्म स्थान हरिनाथपुर है, जो कि पलासबारी पीएस जिला (बांग्लादेश) के गैबांधा के तहत आता है। वह कंप्यूटर अध्ययन के लिए पश्चिम बंगाल आए थे और डिग्री लेने के बाद वे पहली बार तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए थे। जिसके बाद वे कांग्रेस (टीएमसी) और बाद में बीजेपी में शामिल हो गए और कूचबिहार से सांसद चुने गए।’

चुनावी दस्तावेज में पते से छेड़छाड़ का आरोप
बोरा ने विभिन्न चैनलों और अखबारों की रिपोर्ट के हवाले से कहा कि उन्होंने चुनावी कागजात में कूचबिहार के रूप में अपना पता जोड़-तोड़ करके दिखाया। सांसद ने कई और कागजात पेश किए जिसमें उनके बड़े भाई और बांग्लादेश में उनके पैतृक गांव के कुछ ग्रामीणों के बयान शामिल हैं, जो निशीथ प्रमाणिक को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के रूप में नियुक्त किए जाने पर असंतोष व्यक्त करते हैं।

पारदर्शी तरीके से जांच की मांग
कांग्रेस सांसद ने कहा, ‘अगर ऐसा है तो यह देश के लिए बेहद गंभीर मामला है कि एक विदेशी नागरिक को केंद्रीय मंत्री बनाया गया है। मैं आपसे निशीथ प्रमाणिक के वास्तविक जन्म स्थान और राष्ट्रीयता के बारे में सबसे पारदर्शी तरीके से जांच करने और पूरे मुद्दे को स्पष्ट करने का आग्रह करता हूं क्योंकि यह पूरे देश में भ्रम पैदा करता है।’ राज्य के उच्च शिक्षा राज्यमंत्री ब्रत्य बसु ने भी बोरा की चिंताओं का समर्थन किया है।

प्रधानमंत्री से पूछा- क्या निशीथ बांग्लादेश के नागरिक?
अपने ट्विटर हैंडल पर बसु ने कहा कि कई समाचार चैनलों ने रिपोर्ट किया है कि निशीथ प्रमाणिक बांग्लादेश के नागरिक हैं। क्या उनकी नियुक्ति से पहले कोई पृष्ठभूमि की जांच नहीं हुई थी? राज्य के एक अन्य मंत्री इंद्रनील सेन ने कहा, ‘यह जानकर स्तब्ध हूं कि केंद्रीय मंत्री निशीथ प्रमाणिक बांग्लादेश के नागरिक हैं। यह भारत की सुरक्षा के लिए खतरनाक चिंता का विषय है यदि एक मौजूदा केंद्रीय मंत्री एक विदेशी नागरिक है। प्रधानमंत्री जी, ये कैसे हो सकता है सरकार इस तरह की सुरक्षा चूक कैसे कर सकती है?

बीजेपी की सफाई- नागरिक ना होते तो दस्तावेज कैसे मिलते
बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘तृणमूल कांग्रेस उनकी राष्ट्रीयता को लेकर इतनी चिंतित क्यों है? अगर वह भारतीय नागरिक नहीं हैं तो उन्हें दस्तावेज कहां से मिले।’ 35 साल की उम्र में बीजेपी सांसद निशीथ प्रमाणिक केंद्र सरकार में राज्यमंत्री के रूप में नियुक्त होने वाले सबसे कम उम्र के राजनेता हैं। वह मंत्रिपरिषद में नियुक्त होने वाले पहले राजबोंगशी भी हैं।

About bheldn

Check Also

बेगुनाह छात्रों पर पुलिस का हिंसक प्रहार बनेगा BJP के पतन का कारण..अखिलेश का हमला

लखनऊ प्रयागराज ज‍िले में छात्रों के हंगामे और उन पर पुलिस लाठीचार्ज की गूंज अब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *