23 जुलाई को इंटक करेगा सत्याग्रह

भोपाल

हेम्टू इंटक के अध्यक्ष आर डी त्रिपाठी ने कहा की 23 जुलाइ को सुबह भेल भोपाल के विभिन्न गेटो में इंटक यूनियन द्वारा बुलेटिन बाटा जायेगा। श्री त्रिपाठी ने कहा की केंद्र सरकार द्वारा बीएचइएल को भारी उद्योग मंत्रालय से हटाकर वित्त मंत्रालय में कर दिया गया है।जो भेल को प्राइवेटाइजेशन के द्वार पर लेकर खड़ा कर दिया है। जिसका हेम्टू इंटक ने घोर विरोध किया है।

बुलेटिन के माध्यम से कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओ जैसे इंसेंटिव ,बोनस ,भेल की जमीन को भेल कर्मियो को लीज पर दी जाये, टर्म इन्सुरेंस आदि कई समस्याओ के निराकरण की माँग भेल के उच्च प्रबंधन से की है।वही भेल के वर्तमान हालात एवं भेल को घाटे से कैसे उबारा जाये के लिए कई महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए है।

श्री त्रिपाठी ने कहा की रक्त देगे प्राण देंगे लेकिन भेल को प्राइवेटाइज नहीं होने देंगे यह भेल भोपाल के कर्मियो का दृढ़ संकल्प है।वही भेल कर्मियो से अपील की कोरोना अभी गया नहीं है आने वाले 125 दिन अति संवेदनशील है भेल के समस्त कर्मियो को बड़ी सावधानी एवं संयम वर्तने की जरुरत है क्योंकि कोरोना की दूसरी लहर का सबसे ज्यादा प्रकोप भेल भोपाल के कर्मियो पर पड़ा है।

अंत में बुलेटिन के माध्यम से सूचना देते हुए कहा की इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजीवा रेड्डी के डायनामिक लीडरशिप में हेम्टू इंटक यूनियन देश के तमाम पब्लिक सेक्टर के खिलाफ संघर्ष करेगी।एवं सयुक्त ट्रेड यूनियन के आह्वान पर पिपलानी स्थित इंटक कार्यालय के बुद्ध सभागार में 23 जुलाइ को शाम 3 बजे सत्याग्रह का आयोजन किया जायेगा।*

About bheldn

Check Also

गणतंत्र दिवस पर विधायक ने किया वरिष्ठजनों का सम्मान

भोपाल गोविंदपुरा विधान सभा क्षेत्र की विधायक श्रीमती कृष्णा गौर ने अपने क्षेत्र में गणतंत्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *