टोक्यो ओलंपिक: पिस्टल ने तोड़ा मनु का सपना, अहम मुकाबले में दिया ‘धोखा’

टोक्यो,

टोक्यो ओलंपिक -2020 में भारत की स्टार शूटर मनु भाकर ने निराश किया है. उन्हें महिला 10 मीटर एयर पिस्टल क्वालिफिकेशन मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है. मनु भाकर 575/600 अंक के साथ 12वें स्थान पर रहीं. फाइनल में पहुंचने के लिए टॉप 8 में आना था. मनु से मेडल की उम्मीद थी, लेकिन वह वहां तक नहीं पहुंच पाईं.

इस अहम मुकाबले में मनु की पिस्टल ने भी साथ नहीं दिया. दूसरी सीरीज के बीच में मनु की पिस्टल के इलेक्ट्रॉनिक ट्रिगर में सर्किट की खराबी थी. 19 वर्षीय को तब कोच और जूरी के एक सदस्य के साथ टेस्ट टेंट में जाना पड़ा, जहां इसे बदला गया.

ये पूरी प्रक्रिया मनु भाकर को महंगी पड़ी और उन्हें 575 अंकों के साथ ही संतुष्ट होना पड़ा. हालांकि मनु ने 5वीं सीरीज में वापसी की थी. उन्होंने इस सीरीज में 98 रन बटोरे थे. मनु के लिए यह एक कठिन दिन था, क्योंकि उन्हें तकनीकी गड़बड़ी का सामना करना पड़ा और तीसरी सीरीज में वह 5 मिनट तक शूटिंग नहीं कर पाईं.

मनु के अलावा इस मुकाबले में भारत की ही यशस्विनी सिंह देसवाल भी शिरकत कर रही थीं. उन्हें भी यहां हार का सामना करना पड़ा. देसवाल 574 स्कोर करके 13वें स्थान पर रहीं. शीर्ष पर चीन की जियान रानशिंग रहीं. उन्होंने 587 अंक हासिल किया. वहीं, यूनान की अन्ना कोराक्की दूसरे और रूसी ओलंपिक समिति की बी वितालिना तीसरे स्थान पर रहीं.

हिना सिद्धू बोलीं- मनु ने शानदार खेल दिखाया
दुनिया की पूर्व नंबर 1 निशानेबाज हिना सिद्धू ने मनु भाकर की पिस्टल में आई तकनीकी खराबी पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ट्वीट किया, मुझे लगता है मनु और देसवाल ने बहादुरी से लड़ाई लड़ी. विशेष रूप से मनु, उसके पिस्टल के साथ कुछ समस्या होने के बाद. मुझे लगता है कि यह अनुभव उन्हें मिश्रित टीम स्पर्धा के लिए मजबूत बनाएगा.’

उन्होंने आगे लिखा कि वह फाइनल में पहुंचने के बेहद करीब थीं. एथलीटों को संख्याओं के आधार पर आंकना बंद करें, शायद यही एक चीज है जिसे आप समझ सकते हैं. प्रदर्शन को समझना शुरू करें. हिना सिद्धू ने आगे ट्विट किया कि उन सभी लोगों के लिए जो यह निर्णय देने के लिए तत्पर हैं कि मनु दबाव के आगे झुक गईं. मुझे अभी विस्तार से पता चला कि उसकी पिस्टल को क्या हुआ था और उसने कितना समय गंवाया.

About bheldn

Check Also

रूस संग आ चीन ने खेल दिया गेम, यूक्रेन पर ‘पुरानी-नई दोस्ती’ के चक्कर में पड़ गया भारत

नई दिल्ली रूस और अमेरिका के नेतृत्व में पश्चिमी देशों के बीच यूक्रेन जंग का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *