नवाज शरीफ की बेटी ने POK की आजादी के नारे वाला वीडियो किया शेयर, उठा बवंडर

नई दिल्ली,

पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) नेतृत्व ने पीओके चुनाव नतीजों को मानने से इनकार कर दिया है. पार्टी ने इल्जाम लगाया कि पंजाब (प्रांतीय) सरकार ने चुनाव में हेराफेरी करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया. पार्टी धांधली के खिलाफ अदालत जाने और विरोध अभियान चलाने पर विचार कर रही है. लेकिन इस बीच पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) की उपाध्यक्ष मरियम नवाज के ट्वीट पर पाकिस्तान में विवाद छिड़ गिया है. उन्हें दूसरा शेख मुजीब उर रहमान (बांग्लादेश के संस्थापक) तक बता दिया गया.

असल में, मरियम नवाज ने सोमवार को ट्वीट किया, “मैंने चुनाव परिणाम स्वीकार नहीं किया है…और करूंगी भी नहीं. मैंने न तो 2018 के आम चुनाव के नतीजे स्वीकार किए थे और न ही इस नकली सरकार को. पीएमएल-एन जल्द ही चुनावों में इस शर्मनाक धांधली पर एक रणनीति की घोषणा करेगा.”

असल में, चुनाव नतीजों को लेकर पीओके में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. कई जगह तोड़फोड़ की घटनाएं सामने आई हैं. इसी तरह एक विरोध प्रदर्शन का वीडियो मरियम नवाज ने ट्विटर पर पोस्ट किया. इस वीडियो पर मरियम को समर्थन मिलने के साथ साथ उनकी आलोचना भी हो रही है.

मरियम नवाज ने वीडियो ट्वीट में लिखा, ‘आज पीटीआई की फर्जी जीत के पहले दिन कश्मीर में पहली बार ”स्वतंत्र कश्मीर” का नारा लगा. जब आप अब लोगों के वोट लूटते हैं, उन पर अत्याचार करते हैं, तो ऐसी ही घटनाएं सामने आती हैं.’ इस वीडियो में लोग आजाद कश्मीर का नारा लगाते हुए दिख रहे हैं.

पाकिस्तान की पत्रकार जावरिया सिद्दीकी ने उर्दू में ट्वीट किया, देश से बढ़कर राजनीति नहीं है. कायदे आजम ने कश्मीर को पाकिस्तान की जीनवदायिनी घोषित किया था.पाकिस्तानी अभिनेत्री शहर शिनवारी ने ट्वीट किया, ‘सत्ता की भूख ने आपको इतना अंधा कर दिया है कि अब आप देश को तोड़ने की बात करने लगी हैं. आप इस देश के दूसरे शेख मुजीब बनने जा रही हैं.

शेख मुजीब उर रहमान बांग्लादेश के संस्थापक रहे हैं. उन्हें पाकिस्तान से अलग होकर बने बांग्लादेश का राष्ट्रपिता भी माना जाता है. कहा जाता है कि अगर शेख मुजीब उर रहमान न होते तो बांग्लादेश कभी आजाद ही नहीं होता. 1971 में भारत ने पूर्वी पाकिस्तान को आजाद कराया जिसे अब बांग्लादेश कहा जाता है.

दरअसल, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के नेतृ्त्व वाली पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ (PTI) ने 25 सीटों पर जीत हासिल की है. बिलावल भुट्टो की पार्टी पीपीपी को 9 सीटें और मरियम नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन को छह सीटों पर जीत मिली है. जम्‍मू-कश्‍मीर पीपल्‍स पार्टी और कश्‍मीर मुस्लिम कांफ्रेंस को भी एक-एक सीट मिली है.

पीओके में विधानसभा के लिए रविवार को वोटिंग हुई थी. इस दौरान चुनाव में गड़बड़ी और हिंसा के आरोप लगे, जिसमें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के दो कार्यकर्ताओं की मौत हो गई. पीएमएल-एन ने पंजाब में पीटीआई सरकार पर मतदान में धांधली करने के लिए अपनी मशीनरी का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है.

इससे पहले, अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) हमदुल्ला मोहिब के पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ से लंदन में मुलाकात करने पर इमरान खान सरकार के मंत्री टूट पड़े थे. इमरान सरकार के मंत्रियों ने नवाज शरीफ को पाकिस्तान के दुश्मनों का दोस्त तक बता दिया. पाकिस्तान के सूचना प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि यही वजह है कि नवाज शरीफ को विदेश जाने की इजाजत नहीं दी जा रही थी, क्योंकि ऐसे लोग अंतरराष्ट्रीय साजिशों का हिस्सा बन जाते हैं. फवाद चौधरी ने कहा कि पाकिस्तान का हर दुश्मन नवाज शरीफ का दोस्त है.

About bheldn

Check Also

सेक्स और पैसों के बदले अमेरिकी नेवी अधिकारी देते थे खुफिया जानकारी!

नई दिल्ली, अमेरिका के एक नेवी कमांडर को देश की खुफिया जानकारी विदेशी कंपनी से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *