29 से उछल सीधे 43 हजार हुआ कोराना, केरल डरा रहा, तीसरी लहर की आहट?

कोच्चि

केरल में मंगलवार को कोविड-19 के 22,129 नए मामले सामने आए हैं और 156 लोगों की कोविड से मौत हो गई। हैरानी की बात यह है कि मई में केरल कोरोना से जंग जीत रहा था और कोविड के मामले 29 तक पहुंच गए थे। हालांकि अब ताजा आंकड़े चौंका रहे हैं। पिछले दो हफ्तों में केरल में 3 लाख लोगों की जांच गई है।

50 दिनों के बाद एक बार फिर ऐसा हुआ है कि एक दिन में 20 हजार से ज्यादा मामले मिले हैं। दक्षिणी राज्यों में केरल पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां इतनी बड़ी संख्या में केस एक दिन के अंदर मिले हैं। हैरानी वाली बात यह है देश के सभी नए मामलों में 50 फीसदी से ज्यादा अकेले केरल के रहे। नए आंकड़ों ने केरल से चिंता बढ़ा दी है।

भारत में मंगलवार को 42,948 कोविड मामले दर्ज किए गए। यह मामले 8 जुलाई के बाद से बीते 19 दिनों में सबसे ज्यादा है। पिछले कई हफ्तों से कोविड मामलों की संख्या में बढ़ोत्तरी केरल पूर्वोत्तर राज्यों और महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों तक ही सीमित थी।

केरल में बढ़ी चिंता
मंगलवार से पहले, पिछली बार 6 जून को किसी भी भारतीय राज्य में कोविड के 20,000 से अधिक मामले दर्ज किए गए थे। यह राज्य था तमिलनाडु, जब यहां एक दिन में 20,421 मामले सामने आए थे। केरल में 29 मई को रैली थी। उसके बाद से राज्य में अचानक कई मामले बढ़ गए हैं। ये बढ़े मामले महामारी की तीसरी लहर की ओर इशारा कर रहे हैं।

7 दिनों में 11 हजार से 16,000 के ऊपर पहुंचे केस
बीते एक हफ्ते के मामले देखें तो राज्य में औसतम 10,000 मामले रोज आए। आंकड़े इससे नीचे नहीं गिरे हैं। लेकिन पिछले सात दिनों में औसत 20-27 जून को लगभग 11,300 से बढ़कर 16,700 से अधिक हो गया है।

मामलों में 12 फीसदी आया उछाल
सोमवार को मामलों में मामूली गिरावट के बाद, राज्य में कोविड पॉजिटिविटी रेट मंगलवार को 12 फीसदी से ज्यादा रही। मंगलवार आए नए मामलों के बाद केरल में अब तक कोविड के कुल मामले 33 लाख से पार हो गए हैं, जो महाराष्ट्र (62.7 लाख) के बाद देश में दूसरा सबसे अधिक कोविड केसेस वाला राज्य बन गया है।

केरल में कोविड का हाल
राज्य में कोविड से मरने वालों की संख्या बढ़कर 16,326 हो गई। 31,43,043 मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। राज्य में 1,45,371 मरीजों का इलाज अब भी चल रहा है। राज्य के पांच जिलों में संक्रमण के 2,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। सबसे ज्यादा 4,037 मामले मलाप्पुरम से सामने आए हैं।

इसके बाद त्रिशूर में 2,623, कोझिकोड से 2,397 और एर्नाकुलम से 2,352 और पलक्कड़ से 2,115, कोल्लम से 1,914 और कोट्टायम से 1,136, तिरुवनंतपुरम से 1,100, कन्नूर से 1,072 और अलप्पुझा से 1,064 मामले सामने आए।

 

About bheldn

Check Also

RRB भर्ती विवाद: छात्रों ने कल बिहार बंद का किया ऐलान, UP में अलर्ट जारी

लखनऊ, RRB NTPC परीक्षा को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. कल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *