कश्मीर के कॉलेज में पाक जिंदाबाद के नारे, विरोध पर MBBS छात्रा को जान से मारने की धमकी

श्रीनगर

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ़ पाकिस्तानियों की जीत से खुश होकर कश्मीर में कई जगह लोग नाचते हुए दिखाई दिए थे। श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज की तो वीडियो भी आई थी जिसके कारण कश्मीर पुलिस ने मामले को यूएपीए के तहत दर्ज किया। इस केस के कारण नाराज लोगों ने अब सोशल मीडिया पर गैर कश्मीरियों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। साथ ही, इसी मेडिकल कॉलेज की एक स्‍टूडेंट अनन्‍या जामवाल की फोटो शेयर कर उसे पुलिस मुखबिर बता रहे और जान से मारने की धमकी दे हैं। अनन्‍या ने देशद्रोही नारे लगाने वालों का विरोध जताया था।

छात्रा अनन्या जामवाल ने बातचीत में बताया कि मेडिकल कॉलेज में लोगों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। मुझे केवल इसीलिए टारगेट किया गया क्योंकि मैंने उन लोगों के खिलाफ आवाज उठाई जो देशद्रोही नारे लगा रहे थे। अनन्या ने बताया कि SKIMS के नॉन लोकल स्टूडेंट की तरफ से मेरे ऊपर एक प्रेशर बनाया जा रहा है कि अगर मैने अपनी आवाज उठाई तो वो सेफ नहीं रहेंगे और उनके करियर पर भी सवाल उठेगा। मुझे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटने को भी कहा जा रहा है। अनन्या ने बताया कि उनके आवाज उठाने से कैसे भारत के ही लोग जो कश्मीर में पढ़ रहे हैं, जो कश्मीर में नहीं रहते हैं बाहर से कश्मीर में पढ़ने आए हैं, उनके करियर पर सवाल उठेंगे?

‘पाक ट्विटर हैंडल पर शेयर किया गया फोटो’
अनन्या ने बताया कि एक ट्विटर हैंडल जो पाकिस्तान से आपरेट हो रहा है, उसकी तरफ से मेरी फोटो शेयर की गई और जान से मारने की धमकी भी दी गई। अनन्या ने सवाल पूछते हुए कहा कि अगर देश के लिए आवाज उठाना और जान से मारने की धमकी सहना, क्या जायज है?

‘पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वालों पर हो सख्त एक्शन’
वीडियो के बारे में अनन्या ने कहा कि जब मैने वो वीडियो देखे तो मैं खुद इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रही था कि भारत के मेडिकल कॉलेज में कोई लोगों का समूह कैसे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा सकते हैं? कैसे वो पाकिस्तान का सपोर्ट कर सकते हैं? मैं खुद भारत की रहने वाली हूं और मैं इस बात पर गर्व करती हूं। अनन्या ने मांग की, जो लोग ऐसा करते हैं उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाए, क्योंकि अगर अभी हमने इनकी आवाज नहीं दबाई तो आने वाले समय में भी ऐसे ही हमारी आवाज दबाई जाएगी और ये लोग सरकार के पैसों से MBBS की डिग्री हासिल करके मजे लेंगे। अनन्या ने बताया कि वो खुद इस कॉलेज का हिस्सा रह चुकी हैं।

दर्ज हुई FIR के बारे में अनन्या ने क्या कहा?
SKIMS छात्रों पर हुई FIR के बारे में अनन्या ने कहा कि लोग उनके ऊपर आरोप लगा रहे हैं कि उन्होंने ही ये केस दर्ज कराया है जबकि ऐसा नहीं है, जब वीडियो वायरल हुए तो उसके बाद खुद एजेंसियों की तरफ से इसका संज्ञान लिया गया और वीडियो दिख रहे लोगों की पहचान जानने के बाद केस दर्ज किया गया। अनन्या ने ये साफ किया कि उनका वीडियो, एफआईआर और उन लोगों की पहचान जाहिर करने से कोई लेना-देना नहीं है। कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि मुझे अपने उन सहपाठियों का सपोर्ट करना चाहिए क्योंकि इससे उनकी डिग्री तक कैंसिल की जा सकती है। अनन्या ने कहा कि बैचमेट वो होता है जो आपके कॉलेज में पढ़े और कॉलेज भारत में हो जो लोग आपके भारत के खिलाफ पाकिस्तान को सपोर्ट करते हैं, वो लोग मेरे बैचमेट कैसे हो सकते हैं।

आतंकी संगठन ने जारी की धमकी
इस केस में यूनाइटिड लिबरेशन फ्रंट जम्मू-कश्मीर सक्रिय हो गया है, जिसे लश्कर का ही एक समूह बताया जाता है और पिछले दिनों जो गैर कश्मीरियों को मारने में आगे था। इस समूह ने 26 अक्टूबर को बयान जारी कर कहा है कि उन्हें खबर मिल गई है कि इन एफआईआर के पीछे किसका हाथ है। गैर स्थानीय कर्मचारी और छात्रों को चेतावनी दी जाती है कि वो ऐसी गतिविधियों में शामिल न हों।

About bheldn

Check Also

चीनी सेना ने अरुणाचल के युवक को किया अगवा, सांसद ने ट्विटर पर लगाई मदद की गुहार!

अपर सियांग चीनी सेना ने मंगलवार को एक भारतीय नागरिक को अगवा कर लिया। अरुणाचल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *