मोदी जी, इजरायल में आप सबसे लोकप्रिय, हमारी पार्टी में आ जाइए… पीएम बेनेट के ऑफर पर लगे ठहाके

ग्लासगो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्लासगो में सीओपी26 सम्मेलन से इतर इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट के साथ द्विपक्षीय वार्ता की। इस दौरान इजरायली पीएम बेनेट ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि आप इजरायल में सबसे लोकप्रिय व्यक्ति हैं। उन्होंने हंसी मजाक में पीएम मोदी को अपनी पार्टी में शामिल होने का निमंत्रण भी दे दिया। पीएम नफ्ताली के इस प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री मोदी ने जमकर ठहाके भी लगाए।

टेक्नोलॉजी और इनोवेशन के क्षेत्र में सहयोग पर हुई बात
इस मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं ने दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की और उच्च-प्रौद्योगिकी तथा नवाचार के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के बारे में विचारों का आदान-प्रदान किया। जलवायु सम्मेलन के दौरान सोमवार को संक्षिप्त बातचीत के बाद प्रधानमंत्री मोदी और बेनेट की पहली औपचारिक मुलाकात हुई।

नफ्ताली ने क्या कहा- पढ़ें
सोशल मीडिया पर साझा किये गए एक वीडियो के मुताबिक बेनेट ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा, ‘‘आप इजरायल के सबसे लोकप्रिय व्यक्ति हैं।’’ इस टिप्पणी का जवाब देते हुए मोदी ने कहा, ‘‘धन्यवाद, धन्यवाद।’’ बेनेट ने इसके बाद मोदी को अपनी यामिना पार्टी में शामिल होने के लिए कहा। दोनों नेताओं ने मुस्कुराते हुए हाथ मिलाया। इस दौरान बेनेट ने कहा, ‘‘आइये और मेरी पार्टी में शामिल हो जाइए।’’ इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी ने बेनेट के साथ हुई मुलाकात को याद करते हुए कहा कि भारत के लोग इजराइल के साथ मित्रता को काफी महत्व देते हैं।

पीएमओ ने भी किया ट्वीट
प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने ट्वीट किया कि इजरायल के साथ मित्रता को और प्रगाढ़ करते हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नफ्ताली बेनेट की ग्लासगो में सार्थक बैठक हुई। दोनों नेताओं ने हमारे नागरिकों के फायदे के लिए सहयोग के विभिन्न उपायों को मजबूत करने पर चर्चा की।’’ मोदी और बेनेट के बीच यह मुलाकात विदेश मंत्री एस जयशंकर के पिछले महीने इजरायल दौरे के दौरान मोदी की ओर से इजरायल के प्रधानमंत्री को भारत आने का निमंत्रण देने के बाद हुई है।

अगले साल भारत आ सकते हैं इजरायली पीएम
इजरायल मीडिया की खबरों के मुताबिक इस साल जून में प्रधानमंत्री बने बेनेट के अगले साल भारत की यात्रा करने की संभावना है। जुलाई 2017 में प्रधानमंत्री मोदी की इजरायल की ऐतिहासिक यात्रा ने भारत और इजरायल के द्विपक्षीय संबंधों को एक रणनीतिक साझेदारी तक बढ़ाया था। तब से, दोनों देशों के बीच संबंध ज्ञान-आधारित साझेदारी के विस्तार पर केंद्रित हैं, जिसमें ‘मेक इन इंडिया’ पहल को बढ़ावा देने सहित नवाचार और अनुसंधान में सहयोग शामिल है।

About bheldn

Check Also

सेक्स और पैसों के बदले अमेरिकी नेवी अधिकारी देते थे खुफिया जानकारी!

नई दिल्ली, अमेरिका के एक नेवी कमांडर को देश की खुफिया जानकारी विदेशी कंपनी से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *